केवीआईसी ने पिछले पांच वर्षों में 20 लाख से अधिक नौकरियां सृजित की

img

नई दिल्ली
खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग ने महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) के तहत पिछले पांच वित्त वर्षों में 20 लाख से अधिक नई नौकरियां पैदा की है। आयोग के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि आयोग ने पीएमईजीपी को लागू करने में हमेशा 100 फीसदी की सफलता दर हासिल की है। सक्सेना ने कहा, यह सुनने में अजीब लग सकता है, देश में नौकरी संकट पर काफी बहस के बीच खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग ने अपनी महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) के तहत पिछले पांच वित्त वर्षों में 20,63,152 नई नौकरियां और 2,67,226 नई परियोजनाएं सृजित की। उन्होंने कहा की यह आश्चर्यजनक है कि केवीआईसी ने इस प्रक्रिया में 105.05 प्रतिशत सफलता हासिल की। उसने 73,408 नई परियोजनाएं शुरू की, 2068.31 करोड़ रुपये मार्जिन मनी वितरित की और 5,84,264 नए रोजगार सृजित किए। साल 2014-15 में इसकी सफलता दर 102.70 प्रतिशत, 2016-17 में 118.29 प्रतिशत और 2017-18 में 112.17 प्रतिशत रही। उन्होंने कहा कि एक जुलाई 2016 को केवीआईसी ने ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया। ऑनलाइन पोर्टल के कारण पारदर्शिता आयी और मार्जिन मनी सब्सिडी के वितरण की प्रक्रिया में तेजी आयी।

whatsapp mail