भारतीय डाक विभाग का राष्ट्रीय डाक सप्ताह मनाया जायेगा 15 तक

img

जयपुर
भारतीय डाक विभाग का राष्ट्रीय डाक सप्ताह दिनांक 09-10-2019 से शुरू होकर 15-10-2019 तक मनाया जायेगा। राष्ट्रीय डाक सप्ताह की शुरूआत विष्व डाक दिवस से होती है, जो कि प्रतिवर्ष विष्व डाक संघ (यू.पी.यू) की स्थापना दिवस 09 अक्टूबर के दिन भारत सहित सभी सदस्य देषों के द्वारा मनाया जाता है। विष्व डाक संघ (यू.पी.यू) की स्थापना दिनांक 09.10.1874 को बर्न (स्विट्रजरलैण्ड) में हुई थी। भारतीय डाक विभाग द्वारा इसी उपलक्ष्य में हर वर्ष की भॉंति इस वर्ष भी दिनांक 09-10-2019 से 15-10-2019 तक सम्पूर्ण देष में राष्ट्रीय डाक सप्ताह के रूप में विभिन्न समारोह व व्यापक गतिविधियों के उत्साहपूर्ण आयोजन का कार्यक्रम निष्चित किया गया है।

 

राजस्थान के सभी डाक परिक्षेत्रीय कार्यालयों एवं मण्डलों में बचत बैंक, डाक सेवा, फिलैटली, व्यवसाय विकास एवं डाक जीवन बीमा, डाक दिवस आदि विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित वर्कषॉप, प्रदर्षनी, कस्टमरमीट, सेमिनार व विभिन्न प्रतियोगिताएं इत्यादि कार्यक्रम आयोजित किया जाना प्रस्तावित है। भारतीय डाक विभाग का 150 वर्षाें से भी अधिक समय से भारतीय समाज के जीवन से महत्वपूर्ण संबंध रहा है और आज संचार क्रान्ति के इस संक्रमण काल में भी विष्वास अटूट है। डाक विभाग प्रत्येक आम व्यक्ति, विभिन्न संगठनों एवं व्यापारिक जगत आदि सभी स्तर पर किसी न किसी माध्यम से हर किसी के जीवन से लगातार जुडा हुआ है। 

 

हाल ही में भारतीय डाक विभाग ने अपनी नई सेवा ई-कॉमर्स पोर्टल दिनांक 24.12.2018 से शुरू की है, जिसके माध्यम से कोई भी फुटकर/खुदरा व्यापारी अपना ऑनलाइन व्यापार शुरू कर सकता है। इस पोर्टल के माध्यम से कई प्रकार की वस्तुएं जैसे हस्तषिल्प, कपड़ा, बैग, खादी का सामान, स्वयं सेवा केन्द्रों एवं सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों से बनी कार्बनिक एवं प्राकृतिक वस्तुएं, डाक विभाग की वस्तुएं जैसे गंगाजल, डाक टिकट आदि का बेचान एवं खरीददारी की जा सकती है।

 

वर्तमान में राजस्थान परिमण्डल में इस प्लेटफॉर्म पर पंजीकृत ग्राहकों की संख्या करीब 10 है, और वहीं 20 ग्राहक की पंजीकरण प्रक्रिया प्रगति पर है।  वर्तमान में फुटकर/खुदरा ग्राहकों से मार्केट प्लेस कमीषन के रूप में वस्तु की कुल मूल्य का 10 प्रतिषत लिया जा रहा है, वहीं सरकारी विभाग से 7 प्रतिषत लिया जा रहा है। इस पोर्टल पर पंजीकरण के लिए ग्राहक अपने नजदीकी किसी भी डाकघर में जानकारी प्राप्त कर सकता है। 

whatsapp mail