जैना ग्रुप ने जापानी कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स दिग्गज-सैनसुई और नाकामिची के साथ गठबंधन किया

img

नई दिल्ली
दूरसंचार और कंज्यूमर ड्यूरेबल में व्यवसाय करने वाले दिल्ली स्थित कारोबारी घराना जैना ग्रुप ने जापान की दिग्गज कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी सैनसुई और नाकामिची के साथ गठबंधन किया है। इस उपक्रम के साथ यह समूह अब अपने व्यापक वितरण चैनल के जरिये पूरे भारत में वर्ग विशेष के कंज्यूमर ड्यूरेबल और होम एप्लायंस ब्रांडों का विस्तार करेगा। इसमें स्मार्ट एलईडी टीवी, होम ऑडियो सिस्टम्स, रेफ्रिजरेटर्स, वाशिंग मशीन, स्प्लिट एसी और छोटे किचेन एप्लायंसेज़ सहित एक विविध उत्पाद पोर्टफोलियो शामिल होगा। ये उत्पाद देशभर में अग्रणी ऑनलाइन रिटेल ईकॉमर्स आउटलेट्स पर भी उपलब्ध होंगे। जैना ग्रुप की स्थापना एक वितरण घराने के तौर पर 1995 में की गई थी और बहुत कम समय में इसने इस देश में प्रतिष्ठित वैश्विक ब्रांडों का प्रतिनिधित्व किया जिनमें एचटीसी, मोटोरोला, सैमसंग, सीमेन्स, पैनासॉनिक और फिलिप्स (एलसीडी डिवाइस) शामिल हैं। प्रतिस्पर्धी और दक्ष बने रहने के अपने प्रयास के तहत इस समूह ने आज खुद को एक संपूर्ण ऑटोमेटेड एंड टु एंड बिजऩेस सॉल्यूशंस प्रदाता में तब्दील कर लिया है और इस देश में कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स बाज़ार में एक विविधतापूर्व रूपरेखा तैयार की है। इस घटनाक्रम पर अपने विचार व्यक्त करते हुए जैना ग्रुप के प्रबंध निदेशक प्रदीप जैन ने कहा, ‘जैना ग्रुप डिजिटल क्रांति में उत्कृष्टता के अपने 23 वर्षों के अनुभव के साथ इस देश में इन ब्रांडों के लिए एक मजबूत आधार बनेगा। इन अधिग्रहणों के साथ हम भारतीय बाज़ार में महंगे ब्रांडों के प्रति झुकाव बढऩे को लेकर आशावान है। हमारा ध्यान सभी टच प्वाइंट्स पर स्थानीय समाधानों के जरिये अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी और अनुभव उपलब्ध कराने पर होगा जिससे भारत में उपभोक्ताओं के लिए मूल्य एवं गुणवत्ता सुनिश्चित हो सके। साथ ही हम आसान उपलब्धता और बेहतर आफ्टर सेल्स सर्विस नेटवर्क सुनिश्चित करने के लिए अपने चैनल का आधार और मजबूत करेंगे। टोक्यो मुख्यालय वाली सैनसुई वैश्विक स्तर पर एक जाना पहचाना ब्रांड है जिसे कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में आठ दशकों से अधिक का परिचालन का अनुभव है। यह दुनिया की अग्रणी कंपनियों में से एक है जिसको लेकर परिवार में जागरूकता है और मूल्य के मुताबिक उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पाद उपलब्ध कराने के लिए इसके पास वितरण का तंत्र है। वर्ष 2016 में सैनसुई का कारोबार 1,627 करोड़ रुपये का था और भारतीय बाज़ार में पुन: प्रवेश के साथ प्रीमियम ग्राहकों को ध्यान में रखते हुए इसके उत्पादों को कस्टमाइज्ड किया जा रहा है। नाकामिची की स्थापना 1948 में की गई थी और तब से इसने उच्च गुणवत्ता के ऑडियो उत्पाद तैयार करने की विश्वसनीयता हासिल की है। यह प्रीमियम सेगमेंट में विश्व के कुछ सबसे बेहतरीन ऑडियो उत्पादों की आपूर्तिकर्ता है और उच्चतम गुणवत्ता को लेकर लोग इसके उत्पादों की आवाज़ की सराहना करते हैं। इसके उत्पाद पहले से ही ऑनलाइन उपलब्ध हैं और अब कंपनी का उद्देश्य ऑफलाइन और ऑनलाइन उपलब्धता के जरिये व्यापक पहुंच स्थापित करने पर है। नाकामिची के उत्पादों पर वैज्ञानिक ढंग से काम किया जाता है ताकि संगीत प्रेमियों के दिलों पर यह राज कर सके और यह कंपनी बेजोड़ गुणवत्ता और निष्पादन को लेकर प्रतिबद्ध है। जैना ग्रुप इन दोनों ब्रांडों के लिए आगामी महीनों में कई उत्पादों की एक सीरीज़ लांच करने की संभावना तलाश रहा है जो उपभोक्ताओं की अलग अलग पसंद के मुताबिक होंगे और समूह निकट भविष्य में आईओटी उत्पादों में भी कदम रखेगा। आज उपभोक्ताओं की खरीदारी की आदत 10-15 साल पहले की तुलना में बिल्कुल अलग है। यह समूह उपभोक्ताओं तक पहुंचने के लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज कराने की संभावना तलाशेगा।

whatsapp mail