रेलयात्री बना आईआरसीटीसी का आधिकारिक ई-टिकटिंग पार्टनर

img

नई दिल्ली
रेलयात्री आईआरसीटीसी का अधिकृत ई-टिंटिंग पार्टनर बन गया है। रेलयात्री को कुछ दिनों पहले आइआरसीटीसी का लाइसेंस प्राप्त हुआ है और अब इसके पास अब ट्रेन टिकट बुक कराने का नया समाधान है। इस लाइसेंस के अंतर्गत, रेलयात्री को आइआरसीटीसी द्वारा इसकी ट्रेन टिकट बुकिंग सेवाओं को जारी रखने के लिए अधिकृत किया गया है। रेलयात्री एक मल्टी-मोडल इंटरसिटी ट्रांसपोर्टेशन नेटवर्क और ट्रैवल एप्प है जिसकी भारत में ऑर्गेनिक रिकॉल सबसे अधिक है। रेल यात्री पिछले 6वर्षों से लाखों भारतीय रेल यात्रियों के लिए क्राउड सोर्सिंग जानकारी और सेवाएं प्रदान करने में सफल रहा है। इसके लिए यात्रियों को स्मार्ट यात्रा विकल्प मुहैया करवाया जाता है। स्मार्ट यात्रा के लिए उपयोगकर्ता को डाटा के आधार पर सूचनाएं प्रेषित की जाती है। इस नई उपलब्धि पर टिप्पणी करते हुए, रेलयात्रीडॉटइन (RailYatri.in) के सह संस्थापक और सीईओ, श्री मनीष राठी ने बताया, ‘‘ट्रेन में विलंब के प्रबंधन के लिए ‘‘लाइव ट्रेन स्टेटस’’ जैसे डिजिटल टूल्स के अलावा डेटा संचालित जानकारियों के जरिए ट्रेनटिकट की बुकिंग को आसान बनाकर हमें इस सेगमेंट में नेतृत्वकारी स्थिति हासिल करने में मदद मिली है। हम अपने अनूठे ज्ञान आधारि सेवा के जरिये ग्राहकों को सेवायें प्रदान करने के लिए तत्पर हैं जिसका उद्देश्य सुचारू यात्रा अनुभव प्रदान करना है। श्री कपिल रायजादा सह-संस्थांपक, रेलयात्रीडॉटइन (RailYatri.in) ने कहा, ‘‘हमारा प्रयास यात्रियों को बेमिसाल इंटरसिटी परिवहन कनेक्टिविटी प्रदान करना है और आईआरसीटीसी के साथ हमारी इस साझेदारी की मदद से अब हम कई स्तरों पर बुकिंग कर पाएंगे और यात्रा संबंधी अन्य सूचनाएं दे पाएंगे। हम देश का एकमात्र इंटरसिटी यात्रा मंच हैं जो भारत के उपयोगकर्ताओं के लिए बनाया गया है। हम अपने उपभोक्ताओं को उनके लिए बनाए गए विश्वसनीय और किफायती विकल्प प्रदान करते हैं। रेलयात्री ट्रेन से संबंधित जानकारी प्रदान करता है जैसे कि पीएनआर स्टेटस, ट्रेन की लाइव स्थिति, दो स्टेशनों के बीच चलने वाली ट्रेन, सीट की उपलब्धता और सीट कंफर्म होने की संभावना। इससे रेल यात्रियों को अपनी यात्रा की योजना बेहतर ढंग से बनाने में मदद मिलती है। इसके अलावा यह ऑनलाइन बस टिकट, ट्रेन में भोजन जैसी सुविधा भी प्रदान करता है। हाल ही में रेलयात्री ने उत्तर और दक्षिण के 12 शहरों में इंटरसिटी स्मार्ट बस के अपने बडे को विस्तारित किया है। 

whatsapp mail