2 जून को हो रहा फिटजी टैलेंट रिवॉर्ड एग्जाम (एफटीआरई)

img

नई दिल्ली
जेईई मेन्स और एडवांस, दोनों में सफलता पाने का सपना देखने वाले सभी छात्रों के लिए फिटजी टैलेंट रिवॉर्ड एग्जाम (एफटीआरई) बहुत जरूरी है क्योंकि यह एकमात्र ऐसी परीक्षा है जो उन्हें उनके प्रदर्शन के जरिए यह बताएगी कि उनके कॉन्सेप्ट कितने क्लियर हैं साथ ही यह बताएगी कि उन्हें अभी और कितनी तैयारी करने की जरूरत है। एफटीआरई, छात्रों को उनका रैंक पोटेंशियल इंडेक्स बता कर, जेईई मेन्स और एडवांस 2020 में सफलता पाने में उनकी मदद करता है। यह परीक्षा उन्हें यह समझने में मदद करेगी कि वे क्या पा सकते हैं और उनकी वर्तमान की तैयारी और जरूरी तैयारी के बीच का फासला खत्म करने में भी मदद करेगी जो जेईई को क्रैक करने के लिए बेहद जरूरी है। एफटीआरई, जेईई मेन्स और एडवांस 2020 में सफलता पाने की इच्छा रखने वाले कक्षा 12वीं और 12वीं पास वाले छात्रों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण परीक्षा है। इसके लिए यह जरूरी नहीं है कि वो फिटजी से जुड़े हुए हैं या नहीं। एफटीआरई छात्रों को उनकी वर्तमान की तैयारी के बारे में असली फीडबैक देता है और बताता है कि आप जेईई की परीक्षा के लिए पूरी तरह से तैयार हैं या अभी भी तैयारी में कुछ कमी है। फिटजी के निदेशक, श्री आर.एल त्रिखा ने बाताया कि “ऐसे छात्रों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए, फिटजी ने अपने विशाल अनुभव और विशेषज्ञता के साथ ‘फिटजी टैलेंट रिवार्ड एग्जाम’ (एफटीआरई) को डिजाइन किया है। छात्रों को राष्ट्रीय स्तर पर अपनी वास्तविक स्थिति से परिचित कराने के लिए यह परीक्षा बेहद जरूरी है जो जेईई 2020 की सफलता की तरफ पहला कदम है। फिटजी टैलेंट रिवार्ड एग्जाम छात्रों को डीटेल्ड और कॉन्सेप्ट वाइस एनेलिसिस देता है। एफटीआरई में उनके प्रदर्शन के आधार पर छात्रों को जेईई मेन / जेईई एडवांस के लिए उनके रैंक पोटेंशियल इंडेक्स (आरपीआई) का पता चलता है। जेईई मेन / जेईई एडवांस के दिन पर अच्छे प्रदर्शन के लिए यह परीक्षा सुझाव प्रदान करती है। फिटजी कुछ शहरों में ‘जेईई में सफलता का विज्ञान’ के नाम से वर्कशॉप का आयोजन कर रहा है जिसमें छात्र आसानी से भाग ले सकेंगे। वर्कशॉप अटेंड करने वाले सभी छात्रों को फिटजी की एक्सक्लूसिव और प्राइसलेस किताब ‘केरियर एज’ बांटी जाएगी जो उन्हें जेईई मेन्स, जेईई एडवांस, सीईई, बीआईटी-एसएटी, वीआईटीईईई, सीईटीएस, बीवीपी, एपी, ईएएमसीईटी, केईएएम, यूपीएसईई, सीजी पीईटी, आरपीईटी, बीसीईसीई, डबल्यूबीजेईई, एएमयूईईई, जेकेसीईटी, जेसीईसीई आदि के बारे में जानकारी देगी। छात्रों को वैजानिक रूप से रीसर्च की गई वर्कबुक ‘दी आर्ट ऑफ सेल्फ एनालिसिस’ भी दी जाएगी जिससे वो अपनी ताकत, कमियों और प्रभावी टाइम-टेबल को समझ सकेंगे। परीक्षा में टॉप 500 में आने वाले सभी छात्रों को सर्टीफिकेट ऑफ अचीवमेंट दिया जाएगा और उन्हें ऑनलाइन डाउट रिमूवल सपोर्ट भी मुफ्त में दिया जाएगा जिससे उन्हें फिटजी के बिना भी तैयारी करने में मदद मिलेगी। "फिटजी टैलेंट रिवार्ड एग्जाम" (एफटीआरई), आईआईटी और अन्य इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं के लिए छात्रों की क्षमता का परीक्षण करने में मदद करता है और छात्रों को तैयारी के लिए सबसे अच्छा मार्गदर्शन प्रदान करता है। यह परीक्षा छात्रों को उन छात्रों को चुनौती देने का मौका देगी जो जेईई 2020 के लिए तैयारी कर रहे सबसे तेज दिमाग वाले बच्चे हैं और हमेशा अच्छा प्रदर्शन देते आए हैं। यह परीक्षा 2 जून 2019 को भारत के 50 से अधिक शहरों में आयोजित की जाएगी। श्री त्रिखा ने आगे कहा “हालांकि, वो छात्र जो जेईई की परीक्षा में अपनी क्षमता और तैयारी के अनुसार अंक प्राप्त नहीं कर पाए हैं या जो क्वालीफाई नहीं कर पाएं हैं उन्हें इसे अपने दिमाग पर हावी नहीं  होने देना चाहिए। फिटजी टैलेंट रिवॉर्ड एग्जाम छात्रों को उनकी पूरी क्षमता को समझाने के लिए डिजाइन किया गया है ताकि वो अपने मनपसंद आईआईटी इंस्टीट्यूट में एडमीशन ले सकें। एफटीआरई के लिए रेजिस्टर करने की आखरी तारीख 1 जून 2019 है। छात्र ऑफलाइन मोड/ ऑनलाइन मोड/ मोबाइल मोड में एफटीआरई के लिए रेजिस्टर कर सकते हैं। 

whatsapp mail