23 नवंबर को होगा जेके लक्ष्मीपत यूनिवर्सिटी के सातवें दीक्षांत समारोह का आयोजन

img

  • दीक्षांत समारोह के साथ संस्थापक दिवस समारोह का भी होगा आयोजन
  • एनएएसी के अध्यक्ष पद्मश्री डॉ. वीरेन्द्र सिंह चौहान होंगे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि

जयपुर
भारत का अग्रणी संस्थान, जेके लक्ष्मीपत विश्वविद्यालय, जयपुर (जेकेएलयू), पीएच.डी, एमटेक, एमबीए, बीटेक, बीबीए और बीकॉम सहित अपने विभिन्न पाठ्यक्रमों के छात्रों को कॉलेज परिसर में सम्मानित करने के लिए तैयार है। यह जेकेएलयू यूनिवर्सिटी का सातवां दीक्षांत समारोह होगा इसके साथ ही यूनिवर्सिटी की आठवीं वर्षगांठ भी मनाई जायेगी। इस दौरान डॉ. वीरेन्द्र सिंह चौहान, राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (एनएएसी) के अध्यक्ष मुख्य अतिथि के रूप में रहेगें। साथ ही जेके लक्ष्मीपत यूनिवर्सिटी जयपुर के चांसलर श्री भरत हरि सिंघानिया, प्रो चांसलर डॉ. आरपी सिंघानिया और कुलपति डॉ. आरएल रैना सहित अन्य गणमान्य लोग शामिल होंगे। डॉ. वीरेन्द्र सिंह चौहान अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एक मान्य प्राप्त वैज्ञानिक और जेनेटिक इंजीनियरिंग व जैव-प्रौद्योगिकी के विशेषज्ञ हैं, जिन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन, वेक्सीन एण्ड बॉयोलॉजिकल स्टैण्डर्ड, और इंटरनेशनल यूनियन ऑफ बायोकेमेस्ट्री एवं मॉलीक्यूलर बायलॉजी, आदि जैसे निकायों के साथ काम किया है और वर्तमान में भारत में शिक्षा के लिए निर्धारक एनएएसी के प्रमुख हैं। जेके संगठन, 125 साल से अधिक प्रतिष्ठित और विविध कॉर्पोरेट और सामाजिक उपस्थिति के साथ, उत्कृष्टता के लिए प्रतिबद्ध है और अपने पारम्परिक, सांस्कृतिक, सामाजिक और पर्यावरणीय जिम्मेदारियों को बरकरार रखते हुए, ईमानदारी, निष्पक्षता और विश्वास के साथ समाज की सेवा करने के लिए एक मिशन द्वारा संचालित है। जेके लक्ष्मीपत विश्वविद्यालय उच्च शिक्षा की एक इमारत के निर्माण के लिए उनकी दीर्घकालिक प्रतिबद्धता का उत्पाद है, जो वैश्विक सर्वोत्तम प्रथाओं, नवाचार, शिक्षण शिक्षाशास्त्र, पाठ्यक्रम और संकाय को लाएगा, जो इसके प्रबंधन संस्थान, इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग के माध्यम से भारतीय छात्रों के साथ-साथ भारतीय व्यापार की जरूरतो, आकांक्षाओं और सामान्य रूप से अर्थव्यवस्था, को पूरा करेगा।

whatsapp mail