'जीमण' ने लंदन को बनाया 'राजस्थान'

img

रंग-बिरंगे राजस्थानी साफे पहने पुरुष और हाथों में तिलक की थाली लिए राजपूती पोशाक पहने महिलाएं, राजस्थानी गीत-संगीत पर थिरकते लोग और राजस्थान के सुप्रसिद्ध पकवानों, दाल-बाटी, चूरमा के साथ मावा कचौरी और प्याज की कचौरी के स्वाद के साथ 1500 राजस्थानियों ने द एसोसिएशन, यूके (टीआरए यूके) के साथ लंदन में राजस्थान को जीवंत कर दिखाया

लंदन/जयपुर
लंदन के वेरमॉन्ट हाई स्कूल के ऑडिटोरियम में द राजस्थान एसोसिएशन, यूके (टीआरए यूके) की ओर रविवार को एनुअल फेस्ट जीमण 2019 का शानदार आयोजन हुआ। ये एक ऐसा कार्यक्रम है जिसमें लंदन में रहने वाले प्रवासी राजस्थानी अपनी संस्कृति को उत्सव के साथ मनाते और जीते है। इसमें वे पूरे राजस्थान को जैसे लंदन में ही ले आते है। बात चाहे राजस्थान के स्वादिष्ट पाक पकवान की हो या राजस्थान के गीत संगीत की, या चाहे बात हो यहां के रंग बिरंगे पहनावे की, सब कुछ इस जीमण में होता है। कार्यक्रम में आने वाले मेहमानों का तिलक लगाकर राजसी अंदाज में स्वागत किया गया। जीमण में एंट्री गेट से अंदर तक राजस्थानी थीम से पोस्टर व कटआउट से सजाया गया था।

द राजस्थान एसोसिएशन यूके द्वारा होता है इस भव्य कार्यक्रम का आयोजन : विदेशी धरती पर राजस्थानी संस्कृति को सजाकर हमारा मान बढ़ाने वाला यह आयोजन द राजस्थान एसोसिएशन यूके द्वारा करवाया गया। कार्यक्रम में लंदन के हर हिस्से में रहने वाले राजस्थान के करीब 1500 लोग पारंपरिक परिधान पहनकर कार्यक्रम में पहुंचे। विदेशी धरती पर होने वाले इस कार्यक्रम से राजस्थान के सभी प्रवासियों को अपनी धरती और संस्कृति से जुड़े रहने का संदेश मिलता है। यूके में बसे परिवार अपनी देश की परंपराओं को भूले नहीं हैं। इसीलिए द राजस्थान एसोसिएशन यूके का निर्माण किया।

थाने काजलियो बना ल्यू, घुमेरदार लहंगो, खड़ी नीम के नीचे एकली आदि राजस्थानी संगीत पर झूम उठे लोग
थाने काजलियो बना ल्यू..., थाने नैना में बसा ल्यू..., घुमेरदार लहंगो..., खड़ी नीम के नीचे एकली... जैसे राजस्थानी गीतों से रविवार को लंदन गंूज उठा। शुरूआत तनोटराय की आरती आज मोरे कंठ, अम्बे बरसो मात भवानी से हुई। राजस्थानी कल्चर की तरह ही लंदन में एंट्री गेट पर रंग-बिरंगे साफे पहने पुरुष और हाथों में तिलक की थाली लिए राजपूती पोशाक पहने महिलाएं मेहमानों की अगवानी कर रहे थे। बच्चों के लिए यहां पतंगे भी सजी थीं। फूड में दाल-बाटी, चूरमा के साथ मावा कचौरी और प्याज की कचौरी ने वहां रहने वाले राजस्थानियों को मारवाड़ की याद दिला दी। डिशेज खट्टे-मीठे, अचार, अदरक व लहसुन की चटनी, बेल, आंवला व सेब का मुरब्बा आदि सर्व किया गया। जीमणवार में ज्यादातर महिलाएं राजपूती पोशाक और जूलरी में सज-धज कर पहुंची। आड, नथ, रखड़ी और बाजूबंद पहने ये महिलाएं पूरी तरह राजस्थानी रंग में रंगी थीं तो पुरूष भी जोधपुर कोट, साफा पहने सजे-धजे थे।

मेहमानों में लंदन की कई प्रमुख हस्तियां भी शामिल
राजस्थान एसोसिएशन की मीडिया प्रभारी ऐश्वर्य गोयल और पुष्पा सिहाग ने बताया कि कार्यक्रम के चीफ गेस्ट डिप्टी हाई कमिश्नर ऑफ इंडिया चरणजीत सिंह, इलिंग साउथहाल से एमपी वीरेंद्र शर्मा, ब्रेंट के पूर्व मेयर भगवान चौहान, काउंसुलेट जनरल ऑफ इंडिया मनोहर लाल, डा. धीरज जोशी, लंदन में हाई कमीशन ऑफ इंडिया से तरूण कुमार, हाई कमीशन ऑफ इंडिया के नेहरू सेंटर के डिप्टी डायरेक्टर ब्रज कुमार गुहारे, इंडिया काउंसलेट की पासपोर्ट ऑफिसर ज्ञानवी सिंह और एसबीआई यूरोप के सीईओ श्रीशरद थे। प्रोग्राम में जयपुर, जोधपुर, बीकानेर, चूरू, शेखावाटी, पाली, अजमेर, उदयपुर सहित पूरे राजस्थान से वहां रहने वाले परिवारों के करीब एक हजार लोग शामिल हुए। इस मौके पर मेनचेस्टर, बर्मिंघम, नॉर्थम्पटन ग्लास्गो से भी मेहमान हिस्सा लेने पहुंचे। 

जीमण के सेकंड एडीशन का हुआ विमोचन 
चीफ गेस्ट के हाथों से (टीआरए यूके) की पत्रिका जीमण के सेकंड एडीशन का विमोचन भी किया गया। इस पत्रिका को माणक प्रकाशन, जोधपुर के साथ संयुक्त रूप से प्रकाशित करवाया गया है। जीमण 2019 पत्रिका में संस्था के सदस्यों द्वारा लिखे राजस्थानी व हिन्दी भाषा में आलेख व कविताएं, संस्था द्वारा पिछले साल किये गये कार्यक्रमों का सचित्र प्रकाशन हुआ है। पत्रिका में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का संदेश भी प्रमुख रूप से छापा गया है। 

राजस्थानी थीम पर थे सेल्फी बूथ 
यहां राजस्थानी थीम पर सेल्फी बूथ बनाए गए थे ताकि मेहमानों को लंदन में ही अपने वतन की मिट्टी का अहसास हो। कलर वीडियो स्क्रीन पर राजस्थान की विभिन्न हेरिटेज इमारतों और जगहों का स्लाइड शो चला।

मोरचंग और खड़ताल के साथ बिछुड़ो
हॉल में लाइव बैंड की परफॉर्मेंस हुईं। लाइव बैंड के साथ राजपूती पोशाक पहने हुए अंजलि शर्मा तिवारी ने खड़ताल और मोरचंग के साथ बिछुड़ो सुनाया। अंजलि के साथ बैंड में गिटार पर इशान शर्मा और तबले पर अमर ने संगत की।

आभास लेडीज ग्रुप ने किया चरी डांस
किड्स फैशन शो में बच्चों ने धोती व पगड़ी पहने हुए रैंपवॉक किया तो हॉल तालियों की गडग़ड़ाहट से गूंज उठा। झंकार गु्रप की परफॉर्मेंस के दौरान लोग अपनी-अपनी कुर्सियों से खड़े होकर नाचने लगे थे। कपल्स डांस के बाद आभास लेडीज ग्रुप ने घूमर की परफॉर्मेंस दी। महिलाओं के ग्रुप ने सर पर चरी रखकर नैना रा लोभी... पर डांस की प्रस्तुति दी। बाद में सभी ने एक साथ महाघूमर पर परफॉर्म किया। सोशल मीडिया प्रभारी शालिनी वाघेला ने बताया कि सुबह से शाम तक चले इस प्रोग्राम को कई मेहमानों ने फेसबुक पर लाइव भी किया। 

whatsapp mail