अर्थव्यवस्था के पायदान पर भारत आगे

img

प्रधानमंत्री ने अमेरिका में ग्लोबल बिजनस फोरम को किया संबोधित

न्यूयॉर्क
पीएम नरेंद्र मोदी ने अमेरिका में बिजनस लीडर्स को संबोधित करते हुए भारत के विकास और आर्थिक सुधारों की कहानी सुनाई। पीएम मोदी ने भारत के विकास के लिए अहम 4 फैक्टरों के बारे में बताते हुए कहा कि डेमॉक्रेसी, डेमॉग्रफी, डिमांड और डिसाइसिवनेस के चलते हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत का लोकतंत्र, आकांक्षी मध्य वर्ग, बढ़ती मांग और सरकार की निर्णायक क्षमता ने ग्रोथ की रफ्तार को तेजी से बढ़ाया है। ब्लूमबर्ग बिजनस समिट में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम ऐसी सरकार हैं, जो वेल्थ क्रिएशन और बिजनस कम्युनिटी का सम्मान करती है। हमने कॉर्पोरेट टैक्स कम करने का क्रांतिकारी फैसला लिया है। सभी बिजनस लीडर्स इसे ऐतिहासिक मानते हैं। निवेश बढ़ाने के लिए एक के बाद एक कई फैसलों का ऐलान सरकार की ओर से किया गया है। उन्होंने कहा कि नई सरकार के गठन के बाद 50 से ज्यादा ऐसे कानूनों को हमने समाप्त कर दिया है, जो बाधा उत्पन्न कर रहे थे। नई सरकार को 3 से 4 महीने हुए हैं, मैं कहूंगा कि यह शुरुआत है। अभी लंबा समय बाकी है। भारत के साथ साझीदारी के लिए दुनिया के सामने यह सुनहरा मौका है। दुनिया भर के निवेशकों से भारत आने का आह्वान करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारा मिडल क्लास आकांक्षी है और ग्लोबल दृष्टिकोण वाला है। इसलिए यदि आप नए ट्रेंड के साथ निवेश करना चाहते हैं तो फिर भारत आइए। हमारा यूथ ऐप इकॉनमी का सबसे बड़ा यूजर है। यदि आप स्टार्टअप्स में बड़े मार्केट के साथ निवेश करना चाहते हैं तो भारत आएं। इसके साथ ही उन्होंने इन्फ्रास्ट्रक्चर, शहरी विकास और 'मेक इन इंडिया' में निवेश के लिए भी बिजनस कम्युनिटी को आमंत्रित किया।

इन्फ्रास्ट्रक्चर पर खर्च करेंगे 100 लाख करोड़ 
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास पर हमारी सरकार जितना निवेश कर रही है, उतना कभी नहीं किया गया। आने वाले सालों में हम 100 लाख करोड़ रुपये आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर पर हम खर्च करने जा रहे हैं। उन्होंने कहा, भारत ने 5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी बनाने का लक्ष्य रखा है। 2014 में यह 2 ट्रिलियन डॉलर के करीब थी। बीते 5 साल में हमने इसमें 1 ट्रिलियन जोड़ा है और अब कमर कसकर 5 ट्रिलियन के लिए काम कर रहे हैं। इस बड़े टारगेट के लिए हमारे पास क्षमता, स्थिति और इच्छाशक्ति हमारे पास साथ है।

सोशल मीडिया को फेक न्यूज से बचाना जरूरी
सोशल मीडिया के इस्तेमाल को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह गुड गवर्नेंस का एक अच्छा हथियार है, लेकिन फेक न्यूज पर भी लगाम लगाने की जरूरत है। पीएम मोदी ने कंधार विमान अपहरण का जिक्र करते हुए कहा कि मीडिया के जरिए आतंकियों को लगा था कि भारत इस मसले पर दबाव में है। इसके बाद न्यूज चैनलों ने इस पर खुद ही मीटिंग की थी। पीएम मोदी ने कहा कि हमें यह सोचना होगा कि किस तरह से टेक्नॉलजी में बदलाव कर फेक न्यूज पर लगाम कसने की कोशिश की जाए।

whatsapp mail