भाजपा ने उम्मीदवारों की चौथी लिस्ट की जारी, 2 मौजूदा सांसदों के टिकट कटे

img

नई दिल्ली
भाजपा ने मध्य प्रदेश की तीन और लोकसभा सीटों के लिए रविवार को अपने प्रत्याशियों की चौथी सूची घोषित कर दी है। इस सूची में पार्टी ने अपने मौजूदा दो सांसदों की टिकट काट दिये हैं। इससे पहले भाजपा ने प्रदेश के लिए जारी अपनी तीन सूचियों में मध्य प्रदेश की 21 सीटों पर अपने प्रत्याशियों का ऐलान कर अपने मौजूदा आठ सांसदों की टिकट काट दिया था। इस प्रकार अब तक पार्टी ने मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से 24 सीटों पर अपने प्रत्याशियों का ऐलान कर अपने मौजूदा 10 सांसदों का टिकट काट दिया है। चौथी लिस्ट में पार्टी ने जिन दो सांसदों पर दोबारा भरोसा नहीं जताया है, उनमें नागेन्द्र सिंह (खजुराहो) एवं सावित्री ठाकुर (धार) शामिल हैं। इनके स्थान पर पार्टी ने खजुराहो से बिष्णु दत्त शर्मा एवं धार से छतर सिंह दरबार को अपना प्रत्याशी बनाया है।
वहीं, रतलाम सीट से भाजपा ने अपने मौजूदा विधायक गुमान सिंह डामोर को अपना उम्मीदवार बनाया है। वह झाबुआ सीट से विधायक हैं और उनका मुकाबला इस सीट पर कांग्रेस के मौजूदा सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया से होगा। कांतिलाल इस सीट पर भाजपा सांसद दिलीप सिंह भूरिया के निधन के बाद हुए उपचुनाव में जीत कर सांसद बने हैं। हालांकि, प्रदेश की पांच महत्वपूर्ण लोकसभा सीटों भोपाल, इंदौर विदिशा, गुना एवं सागर पर भाजपा किसे चुनावी मैदान में उतारेगी, इस पर अब भी अटकलें जारी हैं। भोपाल सीट से कांग्रेस ने अपने दिग्गज नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को मैदान में उतारा है। उनके खिलाफ भाजपा कट्टर हिन्दूवादी नेता को मैदान में उतारने के लिए मंथन कर रही है। वहीं, विदिशा सीट की मौजूदा भाजपा सांसद एवं केन्द्रीय मंत्री सुषमा स्वराज इस बार लोकसभा चुनाव न लडऩे की घोषणा कर चुकी हैं, जबकि इंदौर सीट से लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन भी इस बार चुनाव न लडऩे की घोषणा कर चुकी हैं। इनके अलावा, भाजपा ने अब तक गुना सीट से कांग्रेस प्रत्याशी एवं पार्टी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ भी अपना उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। कांग्रेस मध्य प्रदेश की 29 सीटों में से 28 सीटों पर अपना प्रत्याशी घोषित कर चुकी है। कांग्रेस ने केवल इंदौर सीट को होल्ड पर रखा है। मध्य प्रदेश में चार चरणों में 29 अप्रैल, 6 मई, 12 मई एवं 19 मई को मतदान होना है। वर्तमान में मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से 26 पर भाजपा का कब्जा है, जबकि 3 सीटें कांग्रेस के पास हैं।

whatsapp mail