सरकार बनने पर फिर से संसद में लाएंगे तीन तलाक का बिल: नरेंद्र मोदी

img

मुरादाबाद
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुरादाबाद के बुद्धि विहार में विजय संकल्प रैली में संबोधन की शुरुआत बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर को याद करके की। उनकी जयंती पर सबसे पहले लोगों से जय भीम के नारे लगवाए। फिर कहा कि 2014 और फिर 2017 में आपने इस चौकीदार का भरपूर समर्थन किया। इसका नतीजा यह है कि पूरी दुनिया में भारता का डंका बज रहा है। संयुक्त राष्ट्र संघ, रूस, जर्मनी आदि देश भारत का सम्मान कर रहे हैं। दुनिया के तमाम देश अपना सर्वोच्च सम्मान मुझे दे रहे हैं लेकिन, यह भारत की एक करोड़ 30 लाख जनता का है, आपका है। जो सिर्फ रोता रहता है उसकी कोई नहीं सुनता। कहा कि हमने एक नए भारत को बनाने का संकल्प लिया है, जो सुंदर भी होगा और समृद्ध भी होगा। अगर भाजपा की सरकार बनती है तो राष्ट्रीय व्यापार आयोग का गठन होगा, गरीबों को पेंशन मिलेगी। मुरादाबाद में भाजपा प्रत्याशी सर्वेश कुमार सिंह के समर्थन में आयोजित रैली में मोदी का संबोधन पूरी तरह से राष्ट्रवाद पर केंद्रीत रहा। कहा कि दुश्मनों ने जो गलती उरी में की उसका जवाब हमने सर्जीकल स्ट्राइक करके दिया। पुलवामा की गलती का जवाब एयर स्ट्राइक करके दिया। दुश्मन कोई भी गलती करेगा उसे हम हमेशा जवाब देंगे और हर जवाब पहले से बड़ा होगा। आज दुनिया हमारे साथ खड़ी है। पाकिस्तान से अपनों ने ही मुंह फेर लिया। पाकिस्तान सरकार रोती रहती है। भारत में पहले की सरकार कांप रही थी, रिमोट कंट्रोल वाली सरकार थी। वैज्ञानिक परीक्षण के लिए कहते थे तो सरकार कोई कदम नहीं उठाती थी। इन पांच साल में अंतरिक्ष में भी भारत का प्रदर्शन अच्छा रहा है। इसे दुनिया ने माना है। जल से लेकर अंतरिक्ष तक हम आज सुरक्षित है। मुरादाबाद का पीतल उद्योग, रामपुर का जरी उद्योग सम्भल के हस्तशिल्प ने देश का लोहा विदेश में मनवाया है। हम आगे बढ़ेंगे तो विदेशी ताकतें भी हमारा लोहा मानेंगी। किसी का नाम लिए बगैर कहा कि कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों ने ऐसे लोगों को मैदान में उतारा है जिन्हें वंदेमातरम बोलने में भी परहेज है। जो वंदेमातरम का सम्मान नहीं कर सकता वह मां भारती का सम्मान क्या करेगा। इनका तो बस एक सूत्री कार्यक्रम है, मोदी को गाली दो, जितनी दे सकते हो दो। कहते हैं मोदी तो शौचालय का चौकीदार है। मोदी की बात शौचालय से शुरू होती है और शौचालय पर खत्म होती है। शौचालय का क्या महत्व है ये कांग्रेसी और अन्य नहीं समझ पाएंगे। क्योंकि इनके पास टाइल्स वाले विदेशी शौचालय हैं। उन बहू-बेटियों से पूछो जो बाहर जाती थीं लेकिन अब नहीं जाती हैं।

दो दिवसीय दौरे पर कल अमेठी पहुंचेंगी प्रियंका वाड्रा
यह भी पढ़ें
ये चौकीदार उन महिलाओं और बेटियों का चौकीदार बना है, ये मेरे लिए सम्मान की बात है। मैंने प्रयागराज में कुंभ के मेले में सफाई कर्मियों के पैर धोये तो बहन जी को पीड़ा हुई। मुझे गाली सुनने का दो दशक का अनुभव है। अब मैं गाली प्रूफ हो गया हूं। उप्र में पहले की सरकारों ने बेटियों का जीना मुश्किल कर रखा था। महिलाएं तीन तलाक जैसी परंपरा को सहने के लिए मजबूर थीं। हमारी सरकार ने उन्हें राहत दी। 23 मई को हमारी सरकार बनने पर फिर से तीन तलाक का कानून संसद में लाया जाएगा। मुझसे लोग पूछते हैं कि मैं गठबंधन को महामिलावट क्यों कहता हूं। आप ही लोग देखें, कैसे कैसे लोग इनके साथ आए हैं। बबुआ ने बुआ के सम्मान में कहा था कि प्रदेश में लगी मूर्तियों के पैर की अंगुली को तोड़ के देखेंगे तो उसमें भी पैसा निकलेगा। ऐसा कहने वाला बबुआ आज बुआ के साथ है। अब वे एक-दूसरे का सम्मान कर रहे हैं। साथियों संकट आज अस्तित्व का है। कह रहे हैं मेरा कहा भी माफ तुम्हारा कहा भी माफ, नहीं तो हम दोनों हो जाएंगे साफ। मायावती ऐसे उम्मीदवार के लिए वोट मांग रहीं हैं, जिनको बाबा साहेब की मूर्ति पर माला पहनाना पसंद नहीं। दूसरा ऐसा प्रत्याशी है जिसने यूनिवर्सिटी के नाम पर गरीबों की जमीन कब्जा कर रखी है। आज साइकिल पर हाथी सवार है और निशाने पर चौकीदार है।

whatsapp mail