हम पिचों की मांग नहीं करते: अरुण

img

पूणे
भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पुणे में होने वाले दूसरे टेस्ट मैच से पहले टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने भारतीय पिचों को लेकर बयान दिया है। उन्होंने अपने गेंदबाजों के परफॉर्मेंस पर खुशी जताई है। साथ ही यह भी कहा है कि हम किसी भी तरह की पिचों की मांग नहीं करते हैं। भारत ने विशाखापट्टनम में खेले गए पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 203 रनों से मात दी थी। इस मैच में गेंदबाजों को प्रदर्शन काबिले-तारीफ रहा था। अब दूसरा मैच पुणे में 10 अक्टूबर से खेला जाना है। गेंदबाजी कोच भरत अरुण अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन से खुश हैं कि उन्होंने अपनी शानदार बॉलिंग के दम पर पिच की प्रकृति का असर खुद के प्रदर्शन पर नहीं पडऩे दिया। भरत अरुण ने गेंदबाजों के साथ बेहतरीन प्रदर्शन किया है। उन्होंने मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, हमें जो विकेट मिलते हैं, हम उसकी मांग नहीं करते। हमें दुनिया की नंबर एक टीम बनने के लिए जो भी परिस्थितियां मिले, उन्हें घरेलू हालात के रूप में स्वीकार करना होगा। उन्होंने कहा कि परिस्थितियों पर निर्भर रहने के बजाय हम कौशल पर ध्यान दे रहे हैं। 

हम विकेट पर ध्यान देने के बजाय अपनी गेंदबाजी पर काम करेंगे
पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज ने कहा, जब हम विदेश जाते हैं तो हम विकेट के ऊपर ध्यान नहीं देते। हम कहते हैं कि हम इसे घरेलू परिस्थितियों के रूप में देखेंगे, क्योंकि विकेट दोनों टीमों के लिए समान ही है। हम विकेट पर ध्यान देने के बजाय अपनी गेंदबाजी पर काम करेंगे। मोहम्म्द शमी ने विजाग टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में दूसरी पारी में नीची और धीमी पिच पर शानदार प्रदर्शन किया। हालांकि, यह पिच स्पिनरों के मुफीद होने की उम्मीद थी। ऐसे में रविचंद्र अश्विन ने सात विकेट हासिल किए। अश्विन ने ये विकेट तब हासिल किए, जब पिच बल्लेबाजों की मदद कर रही थी। इसके बाद मोहम्मद शमी ने शानदार परफॉर्म करते हुए भारत को मैच में उस वक्त वापसी दिलाई, जब यह काफी मुश्किल था। पहले टेस्ट के पांचवें दिन तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने 5 विकेट लिए। भारत के 502 रनों के जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने 431 रन बनाए थे। डीन एल्गर और क्विंटन डिकॉक ने शतक लगाए, लेकिन दूसरी पारी में उनकी पूरी टीम 191 रनों पर ढेर हो गई। 

whatsapp mail