रिफाइनरी की आधारभूत सुविधाओ के कार्य प्राथमिकता से पूर्ण करवाने के निर्देश

img

बाड़मेर
रिफाइनरी के लिए आधारभूत सुविधाओं से संबंधित कार्य प्राथमिकता से पूर्ण करवाएं। इसके लिए विभागीय अधिकारी नियमित रूप से प्रभावी मोनेटरिंग करें। जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल में रिफाइनरी कार्यों की प्रगति की समीक्षा करते हुए यह बात कही। जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने कहा कि संबंधित विभागीय अधिकारी स्थानीय स्तर पर निपटने योग्य प्रकरणों को निपटाएं। ऐसे मामले जिनका स्थानीय स्तर पर समाधान नहीं हो सकता, उनमें उच्च स्तर से मार्गदर्शन मांगा जाए। जिला कलक्टर गुप्ता ने रिफाइनरी की चारदीवारी के निर्माण, बीएसएनएल की आफ्टिकल केबल की शिफिं्टग, 220 केवी जीएसएस के निर्माण, रिफाइनरी के लिए विद्युतापूर्ति, एप्रोच रोड़, टाउनशिप के निर्माण, पार्किग एरिया समेत विभिन्न प्रकरणों की मौजूदा स्थिति एवं प्रस्तावित कार्य योजना तथा कार्य पूर्ण होने के बारे में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने संबंधित विभागीय अधिकारियों से प्रकरणवार चर्चा करते हुए आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि रिफाइनरी के कार्य को पूर्ण गंभीरता से लेते हुए आपसी समन्वय से निर्धारित समयावधि में पूर्ण करवाने का प्रयास करें। उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग, बीएसएनएल के अधिकारियों को मौके पर जाकर वस्तुस्थिति से अवगत कराने तथा कार्य संपादित करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान डिस्काम के अधीक्षण अभियंता एम.एल.जाट ने बताया कि डिस्काम की ओर से रिफाइनरी के लिए मांग के मुताबिक विद्युत कनेक्शन संबंधित तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। जरूरत पडऩे पर तत्काल विद्युत कनेक्शन उपलब्ध करा दिया जाएगा। राजस्थान राज्य विद्युत प्रसारण निगम के अधिशाषी अभियंता ने बताया कि रिफाइनरी के लिए 220 केवी के जीएसएस का निर्माण निर्धारित समयावधि में करा लिया जाएगा। रिफाइनरी के लिए बालोतरा, बाड़मेर-जोधपुर लाइन से बिजली उपलब्ध कराई जाएगी। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर राकेश कुमार शर्मा, बालोतरा उपखंड अधिकारी रोहित कुमार, नायब तहसीलदार गोपीकिशन पालीवाल, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता हरिकृष्ण, अधिशाषी अभियंता वीरचंद समेत एचपीसीएल राजस्थान रिफाइनरी लिमिटेड के विभिन्न अधिकारी उपस्थित रहे।