विधिक सेवा शिविर में छात्राओं को दी साईकिलें

img

सादुलपुर
राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में रविवार को राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण चूरू के निर्देशानुसार ताल्लुका विधिक सेवा समिति एवं ताल्लुका प्रशासन राजगढ़ के सौजन्य से जिला एवं सेशन न्यायाधीश अयूब खान की अध्यक्षता में विधिक सेवा शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में विशिष्ट अतिथि प्रमुख सचिव राज.राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर के विकास कुमार खंडेलवाल थे। शिविर में राजस्व, नगरपालिका, पंचायत समिति, चिकित्सा विभाग, शिक्षा विभाग के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे तथा अलग-अलग विभागों की अलग-अलग स्टॉले लगाकर शिविर में आने वाले लाभार्थियों एवं पीडि़तो की समस्याओं का निदान किया गया। इसके अलावा शिविर में रक्तदान शिविर, एनसीडी चैकअप कैंप व आधार कार्ड कैंप का भी आयोजन किया गया। शिविर में वीडियोग्राफी के माध्यम से रालसा की विभिन्न योजनाओं के बारे में आम लोगों को अवगत कराया गया। इस मौके विभिन्न विद्यालयों के विद्यार्थी, स्कूल स्टाफ, एनसीसी कैडेट, स्काउट गाईड आदि ने अपनी सेवाएं दी। शिविर के दौरान जिला एवं सेशन न्यायाधीश अयूब खान ने कहा कि पीडि़त एवं समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े पीडि़त व्यक्ति को न्याय दिलाना ही प्राधिकरण का मूल उद्देश्य है तथा कोई भी गरीब पीडि़त व्यक्ति पैसो के अभाव में न्याय से वंचित नही किया जा सकता। उन्होने ने मौजूद जनसमूह से नालसा एवं रालसा की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को आम व्यक्ति तक पहुंचाने का आह्वान करते हुए बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने एवं बालविवाह के दुष्परिणामों से अवगत कराते हुए सामाजिक कुरीतियों को त्यागकर स्वच्छ समाज बनाने का आहवान करते हुए कहा कि जिस देश का समाज स्वस्थ व सभ्य होगा तथा कुरीतियों से दूर होगा। वह देश आगे बढेगा, वहीं विशिष्ट अतिथि विकास खंडेलवाल ने रालसा की विभिन्न योजनओं के बारे में प्रकाश डालते हुए कहा कि तहसील स्तर से लेकर उच्चतम न्यायालय तक नालसा द्वारा पीडि़त व्यक्ति को नि:शुल्क विधिक सहायता उपलब्ध करवाई जाती है तथा अपराधी भी जो अपने खर्चे पर अधिवक्ता करने में असमर्थ हो उन अपराधियों को भी नालसा व रालसा द्वारा अच्छे वकील पैरवी के लिए उपलब्ध करवाये जा रहे है ताकि कोई भी व्यक्ति न्यास से वंचित न हो सके। कार्यक्रम में राजेश दडिय़ा ने संविधान की प्रस्तावना के बारे में अवगत करवाते हुए उपस्थ्ति जनसमूह को संविधान की शपथ दिलवाई। शिविर में मनोज पूनियां के सहयोग से 12 विकलांगों को ट्राई साईकिल, पांच स्कूली छात्राओं को साईकिल तथा गार्गी पुरस्कार से सम्मानित 9 छात्राओं को लेपटॉप एवं पांच हियरिंग एड दिए गऐ। शिविर के दौरान आयोजित हुए रक्तदान शिविर में कुल 34 यूनिट बल्ड एकत्रित किया गया जिनमें न्यायिक अधिकारियों, अधिवक्ताओं व कर्मचारियों ने रक्तदान किया।