4200 छात्र-छात्राओं एवं आम-जन को किया बिमारियों से बचाव के लिए जागरूक

img

जयपुर
समाज सेवा प्रकल्प से जुड़े जे.के.लोन अस्पताल, जयपुर में कार्यरत वरिष्ठ नर्सिंग प्रभारी नीरत तम्बोलिया ने शहर के विभिन्न स्कूलों में प्रार्थना सभाओं के दौरान करीब 4200 छात्र-छात्राओं को विभिन्न बिमारियों से बचाव उनकी रोकथाम व प्राथमिक उपचार के बारे में जानकारी देकर जागरूक किया। करीब 57 दिनों तक शहर के स्कूलों में चलाये गये स्वास्थ्य जागरूकता अभियान के अन्तर्गत छात्र-छात्राओं एवं आम-जन को स्वाईन फ्लू, टी.बी. एवं मौसमी बिमारियों के लक्षण, बचाव एवं रोकथाम के साथ सड़क दुर्घटनाओं में प्राथमिक उपचार एवं सावधानियां की जानकारी देकर जागरूक किया। स्वास्थ्य जागरूकता अभियान का बुधवार को समापन हुआ। नीरज तम्बोलिया के बताया कि बच्चों के अस्पताल में कार्यानुभव के मध्य नजर शहर के विभिन्न स्कूलों के संचालक महोदय द्वारा छात्र-छात्राओं एवं टिचर्स इत्यादि को स्वाईन फ्लू, टी.बी. एवं मौसमी बिमारियां तथा सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को तत्काल प्राथमिक उपचार एवं सावधानियां इत्यादि के बारे में जागरूक किये जाने बाबत विशेष आग्रह किया गया। तत्पश्चात चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाऐ, राजस्थान जयपुर को स्वास्थ्य जागरूकता अभियान की सूचना प्रेषित कर अभियान शुरूआत की गई। अस्पताल ड्यूटि समय से पूर्व सुबह एवं ड्यूटि समय पश्चात तथा साप्ताहिक अवकाश के दौरान स्कूलों में एवं नि:शुल्क चिकित्सा परामर्श शिविर में आने वाले मरीजो एवं आमजनों को स्वाईन फ्लू, टी.बी. एवं मौसमी बिमारियां तथा सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को तत्काल प्राथमिक उपचार एवं सावधानियां व बचाव के बारे में जागरूक किया गया। नीरज तम्बोलिया ने बताया कि स्कूलों में स्वास्थ्य जागरूकता अभियान वर्ष 2018 में भी चलाया गया था। जिसकी सफलता के बाद इस वर्ष 17 जनवरी 2019 से यह अभियान शुरू किया गया था।