लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ निम्स यूनिवर्सिटी का नाम

43

होटल मैनेजमेंट के फैकल्टी मेंबर्स और स्टूडेंट्स ने मिलकर 50 फीट लम्बा व करीब 62 किलो वजन का वेजिटेबल कबाब बनाया

जयपुर । दिल्ली रोड स्थित निम्स यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ होटल मैनेजमेंट की ओर सेबुधवार को दुनिया का सबसे बड़ा वेजिटेबल कबाब बना कर लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड मेंअपना नाम दर्ज करने का दावा किया । होटल मैनेजमेंट के फैकल्टी मेंबर्स और स्टूडेंट्स ने मिलकर 50 फीट लम्बा व करीब 62किलो वजन का वेजिटेबल कबाब बनाया ।

लिम्का बुक में दर्ज होगा विश्व रिकॉर्डइस अवसर पर डॉ. मनोज श्रीवास्तव, प्रिंसिपल निम्स होटल मेनेजमेंट कॉलेज ने बताया किइस कबाब को बनाने के लिए खास तैयारियाँ की गई खास तरह का तवा, 27 तरह कीसब्जियाँ, 31 तरह के मसालों के साथ इसे विशेष तवे पर बनाया गया। इस कबाब को बनानेके लिए तीन दिन पहले से ट्रायल चल रहा था ।निम्स यूनिवर्सिटी के चेयरमैन डॉक्टर प्रोफेसर बी. एस. तोमर ने लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड केसदस्यों के सामने कबाब को काटा व विश्व रिकॉर्ड बनाने पर होटल मैनेजमेंट स्कूल को बधाईदी और कहा की निम्स युनिवर्सिटी में विश्व स्तरीय सुविधाओं व अनुभवी प्रोफेसर्स के होने सेयह विश्व रिकॉर्ड बन पाया है।

इसके लिए में इन सबको मैं बधाई देता हूँ। भविष्य में भी हमइसी प्रकार के विश्वस्तरीय कार्यक्रमों के आयोजन करते रहेगे।डॉ. तौमर ने बताया की निम्स युनिवर्सिटी में हजारों विद्यार्थी कई सारे मेडिकल व नोनमेडिकल कोर्सेज विश्व स्तरीय सुविधाओं व अनुभवी प्रोफेसर के साथ करते है। कई संस्थाओंके द्वारा निम्स की गुणवत्ता को प्रमाणित किया गया है।

इस मौके पर देशभर से आये विशेषज्ञों ने अपने अनुभव विद्यार्थियों के साथ बांटे।इस कबाब के लिए एक विशेष कुक एंड रोस्ट तकनीक का प्रयोग किया गया वह विशेष रूपसे 50 फीट लंबा गैस रेंज बनाया गया जिसके लिए निम्स की टीम 1 साल की अथक मेहनतऔर रिसर्च कर रही थी।

जिसके फल स्वरुप ही आज यह संभव हो पाया है।कबाब को बनाने की वाली टीम में फैकल्टी मेंबर साहिल दीप विकास राणा, प्रकाश मीना,राजीव माथुर व अन्य सभी विद्यार्थी शामिल थे।