पुरानी रंजिश में युवक को गोली मारकर उतारा मौत के घाट

9

संगरिया कस्बे के ढाबा गांव का मामला, ट्रैक्टर से आए 3 बदमाश पैदल ही भाग खड़े हुए

संगरिया। हनुमानगढ़ जिले के संगरिया कस्बे की एक ढा़णी में बीती रात कुछ बदताशों ने एक युवक की उसके घर में घुस कर गोली मार कर हत्या कर दी। मृतक के परिजनों ने हत्यारों को पकडऩे की कोशिश की लेकिन वे भाग गए। मृतक के भाई ने दो लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
संगरिया थाना प्रभारी इन्द्र कुमार ने बताया कि ढाबा गांव की ढाणी में चक 7 बीजीपी में बीती रात सेठी, हिंमाशु तथा उनके एक साथी ट्रैक्टर से भान सिंह (28) के घर आए। भान सिंह अपने घर पर सो रहा था। घर के बाकी सदस्य भी वहीं मौजूद थे।

सुल्तान ने सेठी को काबू करने की कोशिश की

सुल्तान सिंह ने बताया कि सेठी पिस्तौल तान कर भान सिंह की खाट के सामने खड़ा हो गया। वह गोली चलाता इससे पहले ही भान सिंह ने उसका हाथ पकड़ लिया। इससे गोली भान सिंह की जांघ में लगी। फिर सेठी के साथियों ने भान सिंह पर लाठियों से हमला कर दिया।
पास में ही सो रहे भान सिंह के भाई सुल्तान सिंह ने सेठी को काबू करने की कोशिश की। परिवार के अन्य सदस्य भी वहां आए। सुल्तान ने सेठी से उसकी हाथ से पिस्तौल छीननी चाही। सेठी ने हाथ छ़ुड़ा लिया और तीनों वहां से पैदल ही भाग निकले। वे अपना ट्रैक्टर वहीं छोड़ गए।
घबराए परिजन भान सिंह को संगरिया अस्पताल ले गए जहां उसका इलाज शुरू किया गया। करीब 15 मिनट बाद ही डाक्टरों ने भान सिंह को मृत घोषित कर दिया। अधिक खून बह जाने से भान सिंह की मौत हो गई। पुलिस ने सुल्तान सिंह की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने ट्रक्टर जब्त कर लिया है तथा हत्यारों की तलाश कर रही है।

आपसी रंजिश का मामला

थाना प्रभारी इन्द्र कुमार ने बताया कि हत्या आपसी रंजिश में की गई है। पहले सेठी और भान सिंह अच्छे दोस्त थे लेकिन फिर किसी बात पर उनमें दुश्मनी हो गई। वहीं सुल्तान सिंह ने पुलिस को दी अपनी रिपोर्ट में हत्या का कारण पैसों का लेन-देन बताया है।