इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर बढ़ा हादसा टला, 45 मिनट तक नासा के कंट्रोल से बाहर रहा

अंतरिक्ष में एस्ट्रोनॉट्स के घर इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर बढ़ा हादसा टला। यह अपनी कक्षा (ऑर्बिट) में जिस जगह फ्लाइट पोजिशन में रहता है वहां से 45 मिनट के लिए हटा रहा। बाद में नासा के कंट्रोल सेंटर्स में मौजूद फ्लाइट टीम ने कंट्रोल थ्रस्टर्स की मदद से स्टेशन को उसकी जगह पर पहुंचाया। उन्होंने बताया कि इस घटना के पीक पर स्टेशन आधा डिग्री प्रति सेकंड की गति से अपनी जगह से हट रहा था।

यह घटना रूसी लैबोरेटरी मॉड्यूल नाउका में तकनीकी खामी की वजह से हुई। नाउका हाल ही में आईएसएस से जुड़ा था। इसके जेट थ्रस्टर्स अपने आप चालू हो गए थे। इसी वजह से आईएसएस अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के कंट्रोल से बाहर हो गया था। आईएसएस में इस वक्त 7 कू्र मेंबर्स हैं।

जिस समय यह घटना हुई उसके कुछ देर बाद ही नासा बोइंग सीएसटी-100 स्टारलाइनर कैप्सूल की लॉन्चिंग का काउंटडाउन शुरू करने वाला था। इसे भी आईएसएस से जुडऩा था। अब इसकी लॉन्चिंग 3 अगस्त को तय की गई है। किसी कारण से उस दिन भी टली तो 4 अगस्त को की जाएगी। स्टारलाइनर को फ्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर से बोइंग लॉकहीड मार्टिन कॉर्प एटलस वी रॉकेट से लॉन्च किया जाना था।

यह भी पढ़ें-कश्मीरी पार्टी ने पाकिस्तान के पीएम इमरान की अलोचना की, कहा-पीओके में लोगों को बोलने और जीने की आजादी मिले