चुनाव टालने की बात पर बैकफुट पर डोनाल्ड ट्रम्प

9

रिपब्लिकन पार्टी के कई नेताओं ने कहा- ट्रम्प के पास चुनाव टालने का अधिकार नहीं

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प नवंबर में होने वाले चुनाव को टालने की बात पर बैकफुट में आ गए हैं। उन्हें अपनी ही पार्टी का समर्थन नहीं मिला है। रिपब्लिकन पार्टी के कई बड़े नेताओं ने कहा है कि ट्रम्प के पास चुनाव टालने का अधिकार नहीं है। अब ट्रम्प ने कहा है कि वे चुनाव टालना नहीं चाहते हैं, लेकिन फर्जी वोटों से बचना चाहते हैं।

ट्रम्प ने कहा था- इस बार इतिहास के सबसे फर्जी चुनाव होंगे

ट्रम्प ने गुरुवार को सुझाव दिया था कि 2020 में होने वाला इलेक्शन टाल दिया जाए। उन्होंने कहा था कि कोरोना महामारी के चलते इन चुनावों में मेल-इन बैलेट से वोटिंग हो सकती है। ऐसा हुआ तो यह अमेरिकी इतिहास के सबसे गलत और फर्जी चुनाव साबित होंगे। यह अमेरिका के लिए बेहद शर्म की बात होगी।

यह भी पढ़ें-चीन देखना चाहता था कि क्या हम उसके खिलाफ खड़े होंगे : पोम्पियो

मेल-इन बैलेट के पक्ष में 71 प्रतिशत वोटर

अमेरिका में हाल ही में हुए एक सर्वे में सामने आया था कि 71त्न वोटर मेल-इन बैलेट के जरिए वोटिंग के पक्ष में हैं। यह सर्वे हार्वर्ड सेंटर फॉर अमेरिकन पॉलिटिकल स्टडीज (सीएपीएस) ने किया था। इसमें बताया गया कि महामारी को देखते हुए 88 प्रतिशत डेमोक्रेट्स और 50 प्रतिशत रिपब्लिकन भी मेल-इन बैलेट के जरिए वोटिंग के पक्ष में हैं।

ट्रम्प के पास चुनाव टालने का अधिकार नहीं

अमेरिका के संविधान के अनुसार, राष्ट्रपति चुनाव की तारीख बदलने का अधिकार राष्ट्रपति के पास नहीं है। इसके लिए ट्रम्प को संसद के दोनों सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव और सीनेट से बिल मंजूर कराना होगा। सीनेट में तो ट्रम्प की रिपब्लिकन पार्टी का बहुमत है, लेकिन निचले सदन में डेमोक्रेटिक पार्टी का बहुमत है। अगर ट्रम्प दोनों सदनों से बिल पास करा भी लेते हैं तो भी वे ज्यादा समय तक चुनाव नहीं टाल पाएंगे। अमेरिका के संविधान के मुताबिक राष्ट्रपति चुनाव 20 जनवरी तक हर हाल में कराने होंगे।

तीन नवंबर को हैं राष्ट्रपति चुनाव

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 3 नवंबर को होने हैं। रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प तो डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन हैं। दोनों पार्टियों के प्राइमरी चुनाव खत्म हो चुके हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी का नेशनल कन्वेंशन भी हो चुका है। इसमें बिडेन के नाम पर मोहर लगी है। अगस्त में रिपब्लिकन पार्टी का नेशनल कन्वेंशन होना है। इसमें ट्रम्प को आधिकारिक रूप से उम्मीदवार घोषित किया जाएगा।