शहर की समस्याओं को लेकर भाजपा ने प्रदर्शन किया, सरकार पर साधा निशाना

11

भरतपुर। सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने, बंद पड़ी लाइटें चालू करने, पार्षदों से भेदभाव बंद करने सहित अन्य मांगों को लेकर शुक्रवार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल के नेतृत्व में नगर निगम कार्यालय पर प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यकर्ता शुक्रवार को सुबह 10.30 बजे से ही छप्पनभोग के सामने एकत्रित होने लगे थे। बाद में 11 बजे रैली के रूप में रवाना होकर नगर निगम कार्यालय पहुंचे। जहां सभा आयोजित की गई। सभा को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल ने कहा कि दीवाली का त्यौहार आ रहा है, किन्तु शहर गंदगी से अटा पड़ा है।

गलियों से लेकर मुख्य मार्गों की रोड लाइटें बंद पड़ी हैं। सीवरेज के नाम पर पूरे शहर की सड़कें खुदी पड़ी हैं। गंदगी के चलते मौसमी बीमारियों का आलम यहां तक पहुंच गया कि पूरे प्रदेश में कोटा मौसमी बीमारियों में अव्वल नंबर पर आ गया और अस्पतालों में मरीजों को बैड नहीं मिल रहे। जिस प्रकार पूर्व में ऑक्सीजन की दिक्कत आ रही थी, अब मरीज एसडीपी और आरडीपी के लिए भटक रहा है।

वहीं दूसरी ओर मंत्री चम्बल रिवर फ्रंट पर दीवाली मनाने की बात कहकर जनता के घावों में नमक छिड़क रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि व्यवस्थाओं में सुधार लाएं एवं भाजपा की विचारधारा वाले पार्षदों के साथ भेदभाव बंद करें, अन्यथा यह तो सांकेतिक प्रदर्शन है, आने वाले समय में यदि निगम का रवैया नहीं सुधरा तो इससे भी विशाल एवं उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। पूर्व विधायक विद्याशंकर नन्दवाना ने कहा कि नगर निगम भ्रष्टाचार का पर्याय बन गया है और केन्द्र द्वारा भेजे गए स्मार्ट सिटी के पैसे का राज्य सरकार द्वारा दुरपयोग किया जा रहा है।

पूर्व पार्षद बृजेश शर्मा नीटू ने कहा कि वार्डों में ट्रैक्टर ट्रोली एवं टिपर समय पर नहीं पहुंच रहे, जिसके चलते सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है। सभा को भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष महेश विजयवर्गीय, वरिष्ठ नेता प्रतापभान सिंह, रविन्द्र सिंह सोलंकी, सत्यभान सिंह, पंडित अनिल औदिच्य, रूपेश शर्मा ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर कोटा उत्तर के पार्षद नन्दलाल मेवाड़ा, रामगोपाल लोधा, नवल हाड़ा, पूजा सुमन,मधु सैनी, पूजा केवट, मेधा गुर्जर, बलविंदर सिंह बिल्लू, राकेश पुटरा, बीरबल लोधा, रवि मीणा, संदीप नायक, मनीष शर्मा व कार्यकर्ता मौजूद थे। सभा के पश्चात पार्षदों के प्रतिनिधिमंडल ने उपायुक्त से भेंट कर कहा कि यदि शीघ्र ही हमारे वार्डों में काम शुरू नहीं हुए तो अधिकारियों को इसके परिणाम भुगतने होंगे। इस दौरान पूर्व पार्षद विकास तंवर, इन्दर कुमार जेन, चन्द्रप्रकाश सोनी, हेमा सक्सेना, नीरज कुशवाह, पूर्व मण्डल अध्यक्ष सत्यप्रकाश लोधा, पंकज साहू, किशन प्रजापति, प्रेमसिंह गौड़, शिवनारायण शर्मा आदि मौजूद रहे।

दूसरी ओर मंत्री चम्बल रिवर फ्रंट पर दीवाली मनाने की बात कहकर जनता के घावों में नमक छिड़क रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि व्यवस्थाओं में सुधार लाएं एवं भाजपा की विचारधारा वाले पार्षदों के साथ भेदभाव बंद करें, अन्यथा यह तो सांकेतिक प्रदर्शन है, आने वाले समय में यदि निगम का रवैया नहीं सुधरा तो इससे भी विशाल एवं उग्र प्रदर्शन किया जाएगा।

पूर्व विधायक विद्याशंकर नन्दवाना ने कहा कि नगर निगम भ्रष्टाचार का पर्याय बन गया है और केन्द्र द्वारा भेजे गए स्मार्ट सिटी के पैसे का राज्य सरकार द्वारा दुरपयोग किया जा रहा है। पूर्व पार्षद बृजेश शर्मा नीटू ने कहा कि वार्डों में ट्रैक्टर ट्रोली एवं टिपर समय पर नहीं पहुंच रहे, जिसके चलते सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है। सभा को भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष महेश विजयवर्गीय, वरिष्ठ नेता प्रतापभान सिंह, रविन्द्र सिंह सोलंकी, सत्यभान सिंह, पंडित अनिल औदिच्य, रूपेश शर्मा ने भी संबोधित किया।

यह भी पढ़ें-कबड्डी में शेरपुर व खो-खो में बनकी विजेता