चीन का वुहान शहर लौटा पटरी पर, 76 दिनों का लॉकडाउन खत्म

31
china wuhan city-file photo
china wuhan city-file photo

चीन के वुहान शहर कोरोना वायरस का केंद्र रहा का जनजीवन सामान्य दिनों की तरह पटरी पर लौट रहा है। शहर में पिछले 76 दिनों यानि 23 जनवरी से यहां लॉकडाउन था। आज से शहर का लॉकडाउन खुल रहा है।

2019 दिसंबर से यहां कोरोना जैसी घातक महामारी फैलनी शुरु हुई थी। आम शहरी के लिए ट्रांसपोर्ट, यातायात, रेलवे स्टेशन, जरूरी सामान जैसी रोजमर्रा के संसाधनों से पाबंदी हटा ली गई हैं।

कोरोना वायरस का केंद्र चीन के वुहान शहर का जनजीवन पटरी पर

पिछले कई दिनों से यहां एक भी मौत का मामला सामने नहीं आने से सरकार ने यहां लॉकडाउन खोलने का फैसला लिया है। 1.1 करोड़ आबादी वाला यह शहर कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित था।

चीन के कुल 82 हजार कोरोना संक्रमितों में से 50 हजार इसी शहर में थे, कुल 3331 मृतकों में से 2500 वुहान में ही मरे। दुनियाभर में 13 लाख से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और 70 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

चीन के वुहान में सबसे ज़्यादा मौतें

वायरस के फैलाव के साथ लॉकडाउन भी पूरे हुबेई प्रांत में लागू कर दिया गया। 6 करोड़ लोग घरों में कैद हो गए। प्रशासन का कहना है कि महामारी दोबारा ना फैले इसलिए अभी कानून का सख्ती से पालन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें-चीन के वुहान में सबसे ज़्यादा मौतें

हर छोटी से छोटी चीज पर नजर रखी जाएगी। गौरतलग है कि वुहान शहर में गंदे मीट का बाजार काफी चर्चित रहा है। यह कहा गया कि गंदा मीट खाने से इंसानों में यह वायरस फैला। हालांकि, इस मार्केट को फिर से खोलने की खबर कुछ दिन पहले आई थी।