सीएम ठाकरे ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग, कोरोना की रोकथाम के बड़े फैसले ले सकते हैं

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। इसमें बीएमसी और प्रदेश के प्रशासनिक अफसर मौजूद रहेंगे। कोरोना के रोकथाम के लिए इस मीटिंग में मुख्यमंत्री कुछ बड़े फैसले ले सकते हैं।

इस बीच, उत्तराखंड सरकार ने महाराष्ट्र, गुजरात, केरल, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ से उत्तराखंड पहुंचने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट कराने का फैसला लिया है। राज्य के सभी रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर इसके लिए स्पेशल इंतजाम किए गए हैं। सरकार ने कहा कि इस नियम का सभी को पालन करना होगा।

देश में कोरोना का संकट फिर से गहराता जा रहा है। पिछले 24 घंटे के अंदर 13 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश ऐसे रहे जहां रिकवरी से ज्यादा नए कोरोना मरीजों की पहचान हुई। इनमें भी 4 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ने दस्तक दे दी है।

इनमें महाराष्ट्र, पंजाब, जम्मू कश्मीर और चंडीगढ़ शामिल हैं। महाराष्ट्र में पिछले 10 दिन, पंजाब में 12, चंडीगढ़ में 10 और जम्मू कश्मीर में 7 दिन से लगातार एक्टिव केस बढ़ रहे हैं। केरल में हालात अब काबू में आने लगा है। यहां सोमवार को 2841 एक्टिव मरीजों की संख्या में कमी आई है।

लगातार 5 दिनों तक एक्टिव मरीजों की संख्या बढऩे के बाद सोमवार के आंकड़ों ने कुछ राहत दी। ओवरऑल नए केस से ज्यादा संख्या ठीक होने वालों की रही। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, सोमवार को 10 हजार 493 लोग संक्रमित मिले, जबकि 13 हजार 230 लोग रिकवर हुए। 76 मरीजों ने दम तोड़ दिया।

इस तरह से 2817 एक्टिव केस की संख्या घट गई। अब तक 1.10 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं, इनमें 1.07 करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं। 1 लाख 56 हजार 498 मरीजों ने अब तक जान गंवा दी। 1 लाख 44 हजार 332 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें-चमोली हादसा : लापता लोगों को मृत घोषित करने की तैयारी में सरकार