कांग्रेस सीए प्रकोष्ठ राजस्थान के 50,000 से अधिक परिवारों से करेगा संपर्क

11
कांग्रेस,congress
कांग्रेस,congress

जयपुर। प्रदेश में कोरोना महामारी के चलते हुए 500 से अधिक कांग्रेस सीए प्रकोष्ठ के पदाधिकारी अपने अपने घरों से टेलीफोन के द्वारा अपने क्लाइंट्स एवं अपने क्षेत्र में रहने वाले अन्य परिवारों से संपर्क स्थापित कर मुख्यमंत्री सहायता कोष में कोरोना बीमारी के चलते हुए अधिक से अधिक आर्थिक मदद देने के लिए अपील कर रहे हैं।

कांग्रेस सीए प्रकोष्ठ राजस्थान अधिक आर्थिक मदद देने के लिए अपील कर रहे हैं

इसके लिए सीए प्रकोष्ठ ने राजस्थान में संभाग के अनुसार संयोजक बनाए हैं। जयपुर में सीए सुनील मोर, जोधपुर में सीए महेश गहलोत, कोटा में सी ए एल आर जैन, भरतपुर में सीए अतुल मित्तल, अजमेर में सीए नटवर शारदा , बीकानेर संभाग में सीए नितिन व्यासउदयपुर संभाग में सीए आशीष शर्मा  को संयोजक बनाया गया है।  

कांग्रेस सीए प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सीए विजय गर्ग में बताया कि सभी संभागों के अध्यक्ष को कहा गया है कि अपने-अपने जिला अध्यक्ष एवं जिले की सीए प्रकोष्ठ की टीम के माध्यम से वह अपने अपने क्लाइंट्स एवं उस क्षेत्र में रहने वाले अन्य परिवारों से टेलीफोन पर संपर्क कर कोरोना बीमारी के तहत मुख्यमंत्री सहायता कोष में अधिक से अधिक राशि देने की अपील करें।

उन्होंने यह भी कहा कि प्रत्येक परिवार के प्रत्येक सदस्य से कम से कम सौ रुपए देने की अपील करें।

इस प्रकार यदि 50 हजार परिवारों से अधिक सीए प्रकोष्ठ अपने साथियों के साथ अपील करता है और वह लोग सब सहयोग करते हैं तो प्रदेश में मुख्यमंत्री सहायता कोष में कोरोना महामारी को रोकने के लिए बड़ा आर्थिक सहयोग हो सकेगा। 

कांग्रेस सीए प्रकोष्ठ राजस्थान प्रत्येक सदस्य से सौ रुपए देने की अपील करें।

इसके साथ ही सीए प्रकोष्ठ के पदाधिकारी अपने क्लाइंट्स एवं उनसे जुड़े हुए व्यापारियों से यह भी अपील करेंगे कि समय रहते ही सरकार को करों का तुरंत भुगतान किया जाए जिससे सरकारी खजाने में किसी तरह के वित्त की कमी नहीं आए।

इस अवसर पर सीए प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सीए विजय गर्ग ने कांग्रेसी सीए प्रकोष्ठ के सभी पदाधिकारियों को एक मेल एवं एसएमएस के द्वारा भी इस संबंध में विशेष दिशा निर्देश जारी किए हैं एवं इस संकट की घड़ी में प्रदेश सरकार के द्वारा जो सराहनीय कार्य किए जा रहे हैं उसकी भी प्रशंसा की है।

राजस्थान: लॉकडाउन के दौरान सीएम गहलोत का बड़ा फैसला

सीए प्रकोष्ठ के द्वारा यह आश्वस्त किया गया है कि वित्तीय संकट के समय सब पदाधिकारी मिलकर मुख्यमंत्री सहायता कोष में अधिक से अधिक सहायता दिलाने की कोशिश करेंगे।