वुहान की सरकारी लैब से निकला है कोरोना वायरस, वैज्ञानिक का दावा

चीन अब धीरे धीरे बेपर्दा होता जा रहा है। कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में किरकिरी कर चुका चीन का भांडा अब पूरी तरह फूट चुका है। अब नया खुलासा हुआ है कि पूरी दुनिया को बर्बादी के रास्ते पर लाने वाला कोरोना वायरस वुहान की सरकारी लैब में तैयार हुआ था। यह खुलासा एक चीनी वायरोलॉजिस्ट ने किया है कि कोरोनोवायरस वुहान में एक सरकार-नियंत्रित प्रयोगशाला में बनाया गया था, जो महामारी का मूल केंद्र था।

वैज्ञानिक ने अपने दावों को पुख्ता करने के लिए सबूत भी पेश किए। एक ब्रिटिश टॉक शो के साथ एक विशेष बातचीत में, वैज्ञानिक डॉ ली-मेंग यान ने कहा कि उसे वुहान में न्यू निमोनिया की जांच करने का काम सौंपा गया था। उन्होंने अपनी जांच के दौरान कोरोनावायरस के बारे में एक कवर अप ऑपरेशन की खोज की। उन्होंने कहा कि उन्होंने चीन में नए निमोनिया पर दो शोध किए – पहला दिसंबर से जनवरी के बीच और दूसरा जनवरी के मध्य में, हांगकांग से अमेरिका भागने से पहले।

उन्होंने बताया, मैंने अपने पर्यवेक्षक को इस विकास की रिपोर्ट करने का फैसला किया, जो एक विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के सलाहकार भी है। लेकिन डब्ल्यूएचओ और मेरे पर्यवेक्षक की कोई प्रतिक्रिया नहीं थी। सभी ने मुझे चेतावनी दी कि सही लाइन पार न करें और चुप्पी बनाए रखें वरना मुझे गायब कर दिया जाएगा।”