कोविड-19: जेडीए के नये फ्लैट्स,7 हजार लोग होंगे क्वारनटाइन

JDA work to build Quarantine Centers continues on a war footing
JDA work to build Quarantine Centers continues on a war footing

जयपुर,
राजधानी जयपुर में लगातार कोरोना संक्रमितों के बढते आंकडों ने सरकार को चिंता करने पर मजबूर कर दिया है। कोरोना संक्रमितों के संपर्क में आए लोगो की भी लगातार बढती संख्या के बाद राज्य सरकार के निर्देश पर जयपुर शहर में नये क्वारनटाइन सेंटर्स बनाने का काम युद्ध स्तर पर जारी है।

सरकार की और से जयपुर विकास प्राधिकरण के आयुक्त टी.रविकांत अपनी टीम के साथ इस काम में दिन रात जुटे है।

जयपुर के अलग अलग इलाको में बडे निजी यूनिवर्सिटी,सत्संग आश्रम,फ्लैट्स को क्वारनटाइन सेंटर में बदला जा चुका है।

जेडीए आयुक्त व क्वारनटाइन प्रभारी टी.रविकांत की माने तो एक साथ 7 हजार से ज्यादा लोगों को क्वारनटाइन करने का इंतजाम पुरा कर लिया गया है।

जेडीए केक्वारनटाइन सेंटर्स बनाने का काम युद्ध स्तर पर जारी

यहां बने क्वारनटाइन सेंटर
जयपुर शहर की सीमाओं पर चारों और सरकार ने क्वारनटाइन सेंटर तैयार कर दिए है।टोंक रोड पर बील्वा में राधा स्वामी सत्संग,जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में,अजमेर रोड पर मणिपाल यूनिवर्सिटी और महात्मा ज्योति राव फूले यूनिवर्सिटी में करीब 2 हजार लोगों को क्वारनटाइन किया जा सकेगा वही आगरा रोड पर बगराना में बने हुए 3600 फ्लैट्स और राजस्थान आवासन मंडल के द्वारा नायला में तैयार 2 हजार फ्लैट्स में करीब 5500 लोगों को क्वारनटाइन किया जा सकेगा।

JDA Quarantine Centers

क्वारनटाइन सेंटरों पर दो शिफ्टों में 24 घंटे स्टाफ तैनात

जेडीए आयुक्त टी.रविकांत ने बुधवार को मौके का दौरा करके अधिकारियों के साथ क्वारनटाइन सेंटर से जुडी तमाम व्यवस्थाएं देखी और आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें-क्वारंटाइन सेंटर, जेडीए में कंट्रोल रुम

इन क्वारनटाइन सेंटरों पर दो शिफ्टों में 24 घंटे स्टाफ तैनात है जो क्वारनटाइन होने वाले लोगों की सुविधाओं का ख्याल रख रहा है । इसके अलावा भी कई संस्थाओं ने अपने भवन क्वारनटाइन सेंटर बनाने के लिए सरकार के समक्ष पेशकश की है।