डूंगरपुर में सर्वाधिक 2206 किसानों को 411 हैक्टेयर जमीन आवंटित की

डूंगरपुर। प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित शिविरों से लोगों को राहत मिल रही है। अभियान के तहत 29 अक्टूबर तक 2363 भूमिहीन किसानों को 480.78 हैक्टेयर भूमि आवंटित की गई है। डूंगरपुर में सर्वाधिक 2206 किसानों को 411.78 हैक्टेयर जमीन आवंटित की गई है।

राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने बताया कि डूंगरपुर जिले में सबसे ज्यादा 2206 किसानों को 411.78 हैक्टेयर जमीन आवंटित की गई है। डूंगरपुर की बिछीवाड़ा पंचायत समिति के 600 किसानों को 116.96 हैक्टेयर, आसपुर के 359 किसानों को 69.84, गलियाकोट के 358 किसानों को 60.96, सागवाड़ा के 259 किसानों को 60.18, दोवड़ा के 245 किसानों को 47.27, साबला के 141 किसानों को 28.65, सीमलवाड़ा के 9 किसानों को 1.66 और डूंगरपुर पंचायत समिति के 235 किसानों को 26.26 हैक्टेयर भूमि आवंटित की गई है। राजस्व मंत्री ने बताया कि इस अभियान के तहत भूमिहीन किसानों को कृषि भूमि आंवटन नियमों के अनुसार भूमि आवंटित की जा रही है। जमीन का मालिकाना हक मिलने से सरकार की अन्य योजनाओं का लाभ भी मिल सकेगा।

प्रशासन गांवों के संग शिविर में कारूलाल के भूमि का मालिक होने का सपना साकार हुआ। पंचायत समिति आसपुर के राजस्व ग्राम खारोडिय़ा निवासी कारूलाल मीणा ने शिविर प्रभारी को अपने छ: सदस्यीय परिवार के भरण-पोषण के लिए कोई स्थाई आसरा नही होने, भूमिहीन किसान होने की व्यथा बताई। इस पर शिविर प्रभारी एवं उपखंड अधिकारी प्रवीण कुमार मीणा ने तत्काल ही अपने राजस्व टीम से नियम अनुसार पात्रता के आधार पर नियम 1970 कृषि भूमि आंवटन के तहत आवेदन करवाते हुए कारूलाल को रकबा 0.1618 हैक्टेयर आवंटन प्रदान करने के दस्तावेज तैयार करवाएं। शिविर में मौके पर ही कारूलाल को राहत प्रदान की गई।

यह भी पढ़ें-बदहाल एथलेटिक्स ट्रैक पर स्पर्धाएं शुरू, लंबी कूद में अभिनव को स्वर्ण, निशाद ने रजत जीता