एलन कोटा में जेईई-नीट की ऑफलाइन क्लासेज 1 सितम्बर से

24

नए बैच 1, 8 व 15 सितंबर से होंगे प्रारंभ

कोटा. शिक्षा की काशी कॅरियर सिटी कोटा में ऑफलाइन कलासेज 1 सितम्बर से शुरू होने जा रही है। राज्य सरकार की अनुमति के बाद निर्धारित गाइड लाइन के तहत क्लासेज के संचालन की तैयारी पूरी हो गई है।

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के निदेशक नवीन माहेश्वरी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा 1 सितम्बर से ऑफलाइन कोचिंग क्लासेज संचालन की अनुमति दी गई है। पूर्व में एनरॉल्ड स्टूडेंट्स के लिए इसे देखते हुए 1 से 15 सितम्बर तक विभिन्न स्लॉट में अलग-अलग क्लासेज व बैचेज की पढ़ाई शुरू करवाई जाएगी। इसके अलावा नए स्टूडेंट्स के लिए नए बैच 1, 8 और 15 सितम्बर से शुरू किए जा रहे हैं।

विद्यार्थियों के पास ऑफलाइन व ऑनलाइन दोनों माध्यमों में पढ़ाई करने का विकल्प मौजूद रहेगा। विद्यार्थी संस्थान की वेबसाइट www.allen.ac.in पर जाकर विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सरकार की अनुमति और एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट द्वारा बैचेज का शेड्युल जारी करने के बाद देशभर से कोटा लौटने वाले विद्यार्थियों की संख्या बढ़़ने लगी है। सैकड़ों स्टूडेंट्स अपने पेरेन्ट्स के साथ विभिन्न माध्यमों से कोटा आ रहे हैं। इसके साथ ही कॅरियर सिटी कोटा एक बार फिर विद्यार्थियों की रौनक से गुलजार होने लगी है, हालांकि ऑफलाइन क्लासेज बंद होने के दौरान भी बड़ी संख्या में बच्चे यहां रहकर सेल्फ स्टडी कर रहे थे।


माहेश्वरी ने कहा कि एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के लिए विद्यार्थियों का स्वास्थ्य ही प्राथमिकता है और इसके लिए किसी भी स्तर पर कोई भी समझौता नहीं किया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा दी गई एसओपी की पालना तो की ही जाएगी, इसके साथ एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट द्वारा हर फैकल्टी व स्टाफ का वैक्सीनेशन करवाया गया है। यही नहीं यहां रहने वाले हर योग्य विद्यार्थी के वैक्सीनेशन के लिए लगातार वैक्सीनेशन कैम्प लगाए जा रहे हैं। एलन द्वारा मेडिकल व इंजीनियरिंग एंट्रेन्स एग्जाम की तैयारी के लिए कोटा आने वाले विद्यार्थियों को स्वस्थ व सुरक्षित माहौल देने के लिए अच्छा माहौल देने की कोशिश की जा रही है।

31 बेड का अस्पताल

माहेश्वरी ने बताया कि विद्यार्थियों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए 31 बेड का स्टूडेंट्स के लिए डेडिकेडेट अस्पताल तैयार किया गया है, इसमें प्राथमिक उपचार की सभी सुविधाएं विकसित कर ली गई हैं। एलन में कार्यरत चिकित्सक इसमें सेवाएं दे रहे हैं। यह अस्पताल इलेक्ट्रोनिक कॉम्पलेक्स में तैयार किया गया है। यहां डे केयर में चिकित्सकों की व्यवस्था की गई है।

अल्ट्रा वायलट सैनेटाइजेशन

कोटा के एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट में सैनेटाइजेशन के लिए अल्ट्रा वायलट सिस्टम लगवाया गया है। इसके तहत क्लासरूम में यूवी लाइट्स लगाई गई है। इनमें सेंसर्स भी लगाए गए हैं। क्लासरूम खाली होने के साथ ही ये लाइट्स ऑन हो जाएगी और क्लासरूम पूरी तरह से सैनेटाइज हो जाएंगे।

ऐसे तैयार है कोटा…

  • क्लासरूम में क्षमता के 50 प्रतिशत विद्यार्थियां को ही अनुमति दी जाएगी। विद्यार्थियों को स्लॉटवाइज बुलाया जा रहा है।
  • कोचिंग के एंट्री प्वाइंट पर स्टूडेंट्स का टेम्प्रेचर व सैनेटाइजेशन करवाया जाएगा।
  • कोचिंग संस्थानों में स्टेपिंग के लिए स्टीकर लगाए गए हैं। सीढ़ियों पर भी स्टीकर लगाए गए हैं।
  • कोचिंग कैम्पस में ‘मास्क नहीं तो प्रवेश नहीं‘ का नियम सख्ती से लागू किया जा रहा है।
  • हॉस्टल के एक कमरे में एक ही स्टूडेंट रहेगा।
  • मैस में एक साथ भोजन नहीं करवाया जाएगा। अलग-अलग टाइम में स्टूडेंट्स भोजन करेंगे।

यह भी पढ़ें-लुधियाना के दो सरकारी स्कूलों के 20 छात्र कोरोना पॉजिटिव पाये गये, अभिभावक चिंतित