जो बाइडन ने यूएस कैपिटल भवन में ट्रंप समर्थकों के हंगामें को राजद्रोह करार दिया

5

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को लेकर सियासी खींचतान के बीच राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों की भीड़ ने यूएस कैपिटल हिल बिल्डिंग के बाहर बुधवार को भारी हंगामा किया। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूएस कैपिटल भवन (अमेरिकी संसद भवन) में ट्रंप समर्थकों के हंगामे को राजद्रोह करार दिया है। बाइडन ने हिंसक हमले के एक दिन बाद ट्रंप समर्थक भीड़ को ‘घरेलू आतंकवादी’ बताते हुए उसकी निंदा की। 

बाइडन ने आगे कहा कि ‘कोई भी मुझे यह नहीं बता सकता है कि अगर बुधवार को विरोध करने वाले ब्लैक लाइव्स मैटर का एक समूह होता, तो उनके साथ बहुत अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता, उनके साथ उपद्रवियों की भीड़ की तुलना में बहुत अलग व्यवहार किया जाता, जिन्होंने कैपिटल भवन (अमेरिकी संसद भवन) पर धावा बोल दिया था। हम सभी जानते हैं कि यह सच है। और यह अस्वीकार्य है।’

वहीं कांग्रेस (संसद) के निम्न सदन प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने कहा कि’ यदि ट्रंप को 25वें संशोधन के तहत राष्ट्रपति पद से नहीं हटाया जाता है, तो अमेरिकी संसद महाभियोग की कार्यवाही करने की ओर बढ़ सकती है।’
 

वहीं व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कायले मैकनेनी ने कहा कि ‘मैं पूरे व्हाइट हाउस की ओर से यहां यह संदेश देती हूं कि यूएस कैपिटल भवन में कल हमने जो हिंसा देखी, वह अमेरिका के लिए भयावह, निंदनीय और विरोधाभासी थी। राष्ट्रपति और ट्रंप प्रशासन की तरफ से कड़े शब्दों में हम इसकी निंदा करते हैं। यह अस्वीकार्य है और जिन लोगों ने कानून तोड़ा है, उन पर कानून के तहत पूरी कार्रवाई की जानी चाहिए।’