आरबीएम में 60 लाख की लागत से बनी मोर्चरी, स्टूडेंट्स के लिए बनाई दर्शक दीर्घा

52

आरबीएम के 250 बैड के नए भवन का शिलान्यास व 3 ऑक्सीजन जनरेशन प्लांटों के लोकार्पण की तैयारी

भरतपुर। सरकार के तीन साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा आरबीएम अस्पताल के 250 बैड के नए भवन का शिलान्यास व आरबीएम व जनाना अस्पताल के 3 ऑक्सीजन जनरेशन प्लांटों का लोकार्पण किया जाएगा। इनके अलावा जिले में कामां, पहाड़ी व बयाना में भी ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट तैयार हैं, इनकी भी लोकार्पण की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। प्रस्ताव सरकार के पास भेजे गए हैं। वर्तमान में आरबीएम की पुरानी बिल्डिंग ध्वस्त कर दी गई है। यहां 250 बैड का नया भवन तैयार किया जाना है, जिसका शिलान्यास सरकार के तीन साल पूरे होने पर किया जाएगा।

आरबीएम अस्पताल की मेडिकल अधीक्षक डॉ. जिज्ञासा साहनी ने बताया कि इसके अलावा आरबीएम में 170-170 सिलेंडर प्रतिदिन की क्षमता वाले 2 ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट और जनाना अस्पताल में 75 सिलेंडर प्रतिदिन की क्षमता वाले एक ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट का लोकार्पण किया जाना है। इधर सीएमएचओ डा. मनीष चौधरी ने बताया कि कामां, पहाड़ी व बयाना के अस्पतालों में भी ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट तैयार किए गए हैं, जिनका भी लोकार्पण किया जाएगा।

भास्कर संवाददाता 7 भरतपुर आरबीएम अस्पताल में 60 लाख की लागत से नई मोर्चरी बनाई गई है। इसमें स्टूडेंट्स के बैठने के लिए दर्शक दीर्घा की सीढिय़ां भी बनाईं गई हैं। पोस्टमार्टम तीन आधुनिक टेबिल लगाई हैं और छह एयरकंडीशनर रैक भी हैं। इसकी बिल्डिंग नवंबर में ही अस्पताल प्रशासन को हैंडओवर हो गई थी।

अब इसके जल्द लोकार्पण का इंतजार है। इसके निर्माण के लिए तकनीकी शिक्षा एवं आयुर्वेद राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के विधायक कोष से 60 लाख रुपए दिए थे। 17 जून 2020 को हुए और 25 फरवरी 2021 तक कार्य पूर्ण होना था। परंतु कोरोना व लॉकडाउन आदि की वजह से निर्माण कार्य बाद में अब पूरा हुआ है।

अब 16 नवंबर को बिल्डिंग आरबीएम अस्पताल को हैंडओवर भी कर दी गई है। इसमें पोस्टमार्टम की आधुनिक टेबल लगाई गई हैं, जो कम्प्यूटराइज्ड हैं। पैनल में लगे बटन से ऊपर-नीचे किया जा सकेगा। डैड बॉडी को टेबल पर रखने के बाद पोस्टमार्टम के दौरान ब्लड व अन्य गंदगी टेबल पर फैलने पर भी नजर नहीं आएगी, क्योंकि इन्हें ड्रेन-आउट करने का सिस्टम टेबल में है।

यह भी पढ़ें-शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन के लिए जनप्रतिनिधियों का सहयोग लें: वर्मा