निसान ने सतत विकास के लिए बनाई चार साल की योजना

निसान इंडिया, Nissan India
निसान इंडिया, Nissan India

निसान मोटर कम्पनी लिमिटेड ने वित्तीय वर्ष 2023 के आखिर तक सतत विकास, वित्तीय स्थिरता और लाभ हासिल करने के लिए बनाई चार साल की योजना का आज खुलासा किया। कॉस्ट रेशनलाइजेशन और व्यवसाय सुधार के साथ बनी स्केलेबल योजना से कंपनी की तेजी से विस्तार करने की पुरानी रणनीति में बदलाव आएगा।

निसान मोटर कम्पनी लिमिटेड ने वित्तीय वर्ष 2023 के आखिर तक सतत विकास, वित्तीय स्थिरता और लाभ हासिल करने के लिए बनाई चार साल की योजना का आज खुलासा किया।

चार-वर्षीय योजना के हिस्से के रूप में निसान संरचनात्मक सुधारों के साथ-साथ गैर-फायदेमंद कार्यों और अतिरिक्त सुविधाओं को व्यवस्थित करके अपने व्यवसाय में बदलाव लाने के लिए निर्णायक कार्रवाई करेगी। कंपनी अपनी उत्पादन क्षमता, वैश्विक उत्पाद रेंज और खर्चों को युक्ति संगत बनाते हुए निश्चित लागत को भी कम करेगी।

अनुशासित प्रबंधन के माध्यम से कंपनी मजबूत रिकवरी और सतत विकास देने वाले व्यावसायिक क्षेत्रों में निवेश को प्राथमिकता देगी। योजना को लागू करके निसान का लक्ष्य वित्तीय वर्ष 2023 के अंत तक 5′ परिचालन लाभ और वैश्विक बाजार में 6′ की टिकाऊ हिस्सेदारी हासिल करना हैजिसमें चीन के 50′ इक्विटी वाले संयुक्त उद्यम से होने वाला आनुपातिक योगदान भी शामिल है।

निसान के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मकोटो उचिडा ने कहा, हमारी परिवर्तन योजना का उद्देश्य अत्यधिक बिक्री विस्तार के बजाय स्थिर विकास सुनिश्चित करना है। अब हम अपनी मुख्य क्षमताओं पर ध्यान केंद्रित करेंगे और अपने व्यवसाय की गुणवत्ता को बढ़ाएंगे तथा लाभ हासिल करने के लिए प्रति यूनिट शुद्ध राजस्व पर ध्यान केंद्रित करने के साथ वित्तीय अनुशासन बनाए रखेंगे।

यह भी पढ़ें-निसान इंडिया ने घोषित की ग्राहक केंद्रित पेशकश और सेवाएं

यह उस संस्कृति की बहाली से मेल खाता है जिसे नए युग में निसान-नेस नाम दिया गया है। चार साल की योजना दो रणनीतिक क्षेत्रों पर केंद्रित है। इसमें चल रहे सांस्कृतिक परिवर्तन के साथ नई खोज, शिल्प कौशल, उपभोक्ता पर ध्यान और गुणवत्ता के ज़रिए निसान की प्रतिष्ठा बढ़ाना शामिल है।