जैसलमेर में स्कूलों के समन्वित होने से किसी छात्रा ने नहीं छोड़ी पढ़ाई: शिक्षा राज्यमंत्री

Govind Singh Dotasara, गोविन्द सिंह डोटासरा
Govind Singh Dotasara, गोविन्द सिंह डोटासरा

जयपुर। शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने शुक्रवार को विधानसभा में आश्वस्त किया कि जैसलमेर विधानसभा क्षेत्र में समन्वयन की वजह से किसी भी बालिका ने अध्ययन नहीं छोड़ा है। शिक्षा राज्यमंत्री ने प्रश्नकाल में विधायक श्री रूपाराम के मूल प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि जैसलमेर जिले के देवा, हमीरा, खींया, पारेवर, रूपसी खुहड़ी और सांवला के 7 राजकीय बालिका विद्यालय वर्ष 2014 के आदेश के तहत मर्ज कर दिए गए थे।

उन्होंने आश्वस्त किया कि विधानसभा क्षेत्र जैसलमेर बालिका शिक्षा के मामले में पीछे नहीं है। माध्यमिक शिक्षा के अन्तर्गत संचालित राजकीय विद्यालयों में कक्षा 6 से कक्षा 12 तक यहां 10,665 छात्राएं अध्यअयनरत हैं।

डोटासरा ने बताया कि समन्वयन से मुक्तं करने के संबंध में विभाग को प्राप्त प्रस्तातवों का मानदण्डा नुकूल समग्र स्थिति का गुणावगुण के आधार पर आंकलन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वित्तीय प्रावधानों के तहत विद्यालयों को समन्वीयन से मुक्त समन्वयन किया जा सकेगा।