नुपुर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, आपके बयान से देश का माहौल खराब हुआ, सार्वजानिक रूप से माफी मांगे

189

नई दिल्ली। नुपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर की गई टिप्पणी को लेकर पूरे देश में जारी बवाल के बीच उन्होंने देश की शीर्ष अदालत सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई की उनके देश के विभिन्न राज्यों में दर्ज एफआईआर को दिल्ली में ट्रांसफर किये कर दी जायें। क्योंकि उनकी जान को खतरा है इसलिए उनका केस दिल्ली में ट्रांसफर किया जाए। लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की और कहा कि इसे पहले हाई कोर्ट में दायर किया जाना था।

सुप्रीम अदालत ने नूपुर शर्मा को फटकार लगाते हुए कहा था कि उनके ही एक बयान के चलते माहौल खराब हो गया। नूपुर शर्मा ने माफी मांगने में देरी कर दी और उनके चलते ही दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुई हैं। न्यायमूर्ति सूर्य कांत और न्यायमूर्ति जे बी पारदीवाला की बेंच ने पैगंबर के खिलाफ टिप्पणी के लिए विभिन्न राज्यों में दर्ज प्राथमिकियों को एक साथ जोडऩे की शर्मा की याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया। उन्हें याचिका वापस लेने की अनुमति दी। इसके साथ ही नूपुर शर्मा ने अदालत से अपनी अर्जी को वापस ले लिया।