मुंबई के खिलाफ फाइनल मैच से पहले पोंटिंग बोले-दिल्ली को हल्के में न लें मुंबई इंडियंस

6

दुबई। आईपीएल-13 में आज फाइनल खेला जाना है। मुकाबला मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला जाएगा। मैच से पहले दोनों टीमों ने एक-दूसरे पर दबाव बनाने वाले बयान दिए। मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा- मुंबई चार बार की चैम्पियन है। टीम को मानसिक बढ़त हासिल है।

पहली बार फाइनल में पहुंचने वाली दिल्ली कैपिटल्स के हेड कोच रिकी पोंटिंग ने कहा- दिल्ली को हल्के में लेने की भूल न करें। क्योंकि दिल्ली का सर्वश्रेष्ठ आना अभी बाकी है। रोहित शर्मा ने कहा, दिल्ली के खिलाफ हमें साइकोलॉजिकल एडवांटेज है। लेकिन हम पिछली बातों के बारे में ज्यादा नहीं सोच रहे हैं।

पोंटिंग ने क्या कहा

दिल्ली कैपिटल्स के कोच रिकी पोंटिंग ने कहा, पोंटिंग ने कहा, हर टीम ने कुछ मैच जीते और कुछ हारे। गु्रप स्टेज में हम भी हारे। वापसी मुश्किल थी। लेकिन, हमने ऐसा किया। यही वजह है कि टीम फाइनल में पहुंची और अब यहां हम अपना सबसे अच्छा खेल दिखाने के लिए तैयार हैं।

पोंटिंग ने कहा यह सीजन काफी अच्छा रहा

पोंटिंंग ने कहा” टूर्नामेंट में टीम के प्रदर्शन से हम खुश हैं। क्योंकि यह सीजन हमारे लिए काफी अच्छा रहा है। हम खिताब जीतने के लिए तैयार हैं और हमारे खिलाड़ी फाइनल में अपना बेस्ट देंगे। हमने टूर्नामेंट में अच्छी शुरुआत की।

लेकिन कुछ मैचों में हमारा प्रदर्शन ठीक नहीं रहा। लेकिन उसके बाद खिलाडिय़ों ने वापसी की और बेहतर प्रदर्शन किया। पिछले तीन मैचों में से दो मैचों में खिलाडिय़ों ने बेहतर खेला और हमें उम्मीद है कि हम फाइनल में अपना बेस्ट खेल दिखाएंगेÓ।

फाइनल में पहुंचना आसान नहीं

उन्होंने आगे कहा आईपीएल के फाइनल में पहुंचना आसान नहीं था। मैं कोच से पहले बतौर कई टीमों में खिलाड़ी के तौर पर शामिल रहा हूं। साथ ही मैं दूसरी टीमों की कप्तानी भी की है। ऐसे में मुझे पता है कि फाइनल में पहुंचना कितना कठिन है।

हमें इस तरह के महत्व पूर्ण खेलों को इंजॉय करना चाहिए। हमें कोशिश करना चाहिए की फाइनल को लेकर जो टेंशन हैं, उसे अपने ऊपर हावी न होने दें। दिल्ली कैपिटल्स के पास इतनी क्षमता है कि वह मुंबई को पांचवे टाइटल जीतने से रोक सकती है। मुंबई दिल्ली से आसानी मैच नहीं जीत सकेगी।

उन्होंने कहा हम मुंबई के खिलाफ पिछले मैचों में बेहतर नहीं खेले हैं। हमने पावर प्ले में बेहतर बैटिंग नहीं की है। वहीं डेथ ओवर में भी हमारी गेंदबाजी बेहतर नहीं रही है। लेकिन हम इसमें सुधार करते हुए फाइनल में बेहतर खेलेंगे।