प्रवास कर रहे श्रमिकों के लिए निजी बसें भी

rajasthan roadways
rajasthan roadways

जयपुर। आगरा रोड पर बॉर्डर की ओर पैदल चल रहे श्रमिकों को राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की बसों द्वारा नि:शुुल्क उनके गंतव्य या बॉर्डर तक तक छोडऩे की व्यवस्था की गई है।

रविवार दोपहर तक 62 बसें उत्तर प्रदेश बॉर्डर तक श्रमिकों को छोड़ चुकीं थीं और 110 बसें रवाना की गईं। इसके साथ ही निजी बसें चलाए जाने का भी निर्णय किया गया है।

श्रमिकों को छोड़ चुकीं 110 बसें रवाना

रोडवेज के सीएमडी नवीन जैन ने बताया कि जयपुर से आगरा रोड पर बड़ी संख्या में श्रमिक यूपी बॉर्डर की ओर पैदल ही चल रहे हैं।

इन्हें जल्द से जल्द राज्य सीमा में उनके गंतव्य तक पहुंचाने के सम्बन्ध में रविवार को जिला कलक्टर डॉ.जोगाराम, परिवहन विभाग के आयुक्त एवं शासन सचिव रवि जैन एवं अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अजयपाल सिंह लाम्बा के साथ हुई बैठक में विस्तृत चर्चा के बाद यह निर्णय किया गया।

जैन ने बताया कि ये बसें आम नागरिकों के लिए नहीं है। यह केवल उन माइग्रेंट श्रमिकों के लिए हैं जो सडक़ पर चल रहे हैं।

जयपुर के चारदिवारी क्षेत्र में कर्फ्यू, जरूरी सेवाओं को लेकर भी लिया बड़ा फैसला

उन्होंने बताया कि आज से निजी बसों को भी चलाया जा रहा है लेकिन ये बसें भी केवल आगरा रोड पर चल रहे केवल प्रवासी श्रमिकों को ही उनके गंतव्य तक पहुंचाएंगी। आमजन एवं विद्यर्थियों को सलाह दी है कि लॉकडाउन का पूरी तरह पालन करें और इन बसों में यात्रा की कोषिष न करें।