राहुल अड़े, नहीं बनेंगे अध्यक्ष, गहलोत को छोडऩा होगा सीएम पद!

50
राहुल गांधी
राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव ; कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ एक संगठनात्मक पद नहीं-राहुल

नई दिल्ली। अध्यक्ष पद को लेकर पिछले कई दिन से चल रही जद्दोजहद के बीच कांगे्रस नेता राहुल गांधी ने अपनी चुप्पी तोड़ दी। भारत जोड़ो यात्रा के बीच वे मीडिया से मुखाबित हुए और उन्होंने साफ कह दिया कि वे अपनी बात पर कायम और रहेंगे। उन्होंने कहा कि वे अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगे। इससे यह तो साफ है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लडऩा ही पड़ेगा। पत्रकारों से बातचीत में राहुल ने एक ही पद पर रहने के संकेत दे दिए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ एक संगठनात्मक पद नहीं है, यह एक वैचारिक पद और एक विश्वास प्रणाली है। उन्होंने आगे कहा कि जो कोई भी कांग्रेस अध्यक्ष बनता है उसे याद रखना चाहिए कि वह विचारों के एक समूह, एक विश्वास प्रणाली और भारत के एक दृष्टिकोण का प्रतिनिधित्व करता है।

केरल में राहुल से अध्यक्ष बनने की गुजारिश करेंगे गहलोत

कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी होने के साथ ही सियासी सरगर्मियां बढ़ गई हैं। गहलोत राहुल गांधी से मिलने केरल पहुंचे हैं। गहलोत राहुल गांधी से मिलकर आखिरी बार उन्हें अध्यक्ष बनने के लिए मनाने की कोशिश करेंगे। राहुल गांधी की हां-ना के बाद गहलोत खुद नामांकन करने के लिए आगे बढ़ेंगे।

मुख्यमंत्री ने बुधवार को दिल्ली में सोनिया गांधी से करीब दो घंटे तक चर्चा की थी। गहलोत राहुल गांधी की यात्रा में एर्नाकुलम और त्रिसूर और चालकुडी तक जाएंगे। गहलोत चालकुडी में नाइट स्टे करेंगे और शुक्रवार वहां से शिरडी जाएंगे। साईं बाबा के दर्शन करने के बाद स्थानीय कार्यक्रमों में भाग लेंगे। गहलोत का शुक्रवार शाम 6 बजे जयपुर लौटने का प्रोग्राम है।

यह भी पढ़ें : खतरा : पीएफआई ने 13 राज्यों में पसारे पैर