रूफटॉप की ओर से आयोजित “आर्ट बजे” आर्ट बैटल में कलाकारों ने लाइव बनाई खूबसूरत कलाकृतियां

239

देश में ऐसा पहला आयोजन जहां चित्रकार बनाते रहे पेंटिंग और विशेषज्ञ उसे लाइव कमेंट्री से करते रहे डिस्क्राइब

जयपुर। देशभर की पारंपरिक कलाओं व संस्कृति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कार्य कर रहे प्लेटफॉर्म— रूफटॉप की ओर से जयपुर के चार स्कूलों में अनूठा कार्यक्रम ‘आर्ट बजे’ आर्ट बैटल आयोजित किया गया। देशभर में अपनी तरह के पहले इस कार्यक्रम में कलाकारों ने दिए गए विषयों पर निर्धारित समय सीमा के भीतर कलाकृति तैयार की। इस लाइव आर्ट इवेंट को स्कूलों के स्टूडेंट्स ने भी काफी एंजॉय किया।

रूफटॉप के सीईओ व फाउंडर कार्तिक गग्गर ने बताया कि भारतीय कलाओं व विरासत के बारे में स्टूडैंट्स को जागरूक करने के उद्देश्य से यह आर्ट बैटल आयोजित किया गया, जिसमें कलाकारों ने कैनवास पर अपनी कल्पना को चित्रित किया। कलाकारों के लिए यह न सिर्फ कला को सीखने का, बल्कि समकालीन व पारंपरिक तरीके से भारतीय कला के ग्लैमर का अनुभव करने का मंच भी साबित हुआ। इसमें कलाकारों ने अपने कलात्मक कौशल को प्रदर्शित किया और स्टूडेंट्स को समकालीन कला जगत का अनुभव कराया। जयपुर के दिल्ली पब्लिक स्कूल, संस्कार स्कूल, महाराजा सवाई भवानी सिंह स्कूल व पैलेस स्कूल में यह बैटल आयोजित किया गया। प्रत्येक स्कूल में 6 से 8 कलाकारों के बीच 64 मिनट की समय सीमा में यह इवेंट कराया गया, जिसमें उन्हें शहरी जीवन, मौसम, यादें व बचपन विषय दिए गए। बैटल के दौरान हर स्कूल में 100—200 स्टूडेंट्स की सक्रिय भागीदारी रही।

दिल्ली पब्लिक स्कूल में मौसम थीम पर आयोजित आर्ट बैटल में कलाकारों ने सर्दी, गर्मी व मानसून के मौसम के खुशनुमा अहसास को कैनवास पर उकेरा। इन कृतियों के जरिए उन्होंने संदेश दिया कि गर्मी, मानसून व सर्दी ऐसे मौसम हैं जो अपने साथ परिवर्तन, आशा और आनंद के पल लाते हैं। यहां कृष्ण जागृत, रवि विश्वकर्मा, भारती आर्य, डॉ. राजेंद्र प्रसाद, संत कुमार विश्नोई व पूजा भार्गव जैसे कलाकारों ने भाग लिया।

संस्कार स्कूल में यादें थीम पर मोनिका देवी, सुरजीत सिंह, ऋतिक पटेल मेहता, जयकिशन लखयानी, रश्मि राजावत, मानवेंद्र सिंह कुशवाहा व तेजपाल सिंह जैसे कलाकारों के बीच बैटल कराया गया। इन्होंने यहां बनाई पेंटिंग्स के जरिए बताया गया कि कितनी बार यादें आपको खुशनुमा सफर पर ले जाती हैं। यहाँ इवेंट के दौरान बच्चों ने लाइव म्यूजिक परफॉरमेंस से सभी का मन भी जीता।

महाराजा सवाई भवानी सिंह स्कूल में कलाकारों के बीच शहरी जीवन विषय पर आर्ट बैटल कराया गया। इन्होंने शहर की सुंदरता, ऐतिहासिक स्मारकों, दैनिक जीवन की भागदौड़ को खूबसूरती के साथ चित्रित किया। यहाँ भाग लेने वाले कलाकार थे पवन शर्मा, निखिल कुमार सिंह, यश चौधरी, प्रियंका बावेजा, दिशांक शर्मा, रीति कुम्भज, अभिशिखा जोशी, प्रज्ञा शर्मा व पूजा भार्गव।

इसी प्रकार पैलेस स्कूल में बचपन थीम पर हुए बैटल में कलाकार वंदना यतीन्द्र व्यास, सावित्री शर्मा, रिद्धि सैनी, टीना लालावत, शिल्पा जाना, सीमा भारद्वाज, रवि डांगरा व अमरजीत कौर शामिल हुए। इन्होंने अपनी रचनाओं के जरिए बताया कि बचपन हमारे जीवन का वह यादगार दौर होता है, जिसे हम अक्सर बार-बार जीने की इच्छा रखते हैं।

इस अनोखे इवेंट के ज़रिये बच्चों ने आर्ट इंटरप्रिटेशन भी सीखा और ये जाना की कैसे कलाकार अपने भाव और विचार एक कैनवास पर उतारता है। स्टूडेंट्स को कला का महत्त्व बताने और भारतीय कलाओं को आगे ले जाने के लिए प्रेरणा देने के उद्देश्य से ‘आर्ट बजे’ आर्ट बैटल आगे और भी जगह आयोजित किये जाएंगे।