उत्तरी भारत के पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी से सर्दी बढ़ी, माउंट आबू में 0.4 डिग्री सेल्सियस पहुंचा पारा

18

उत्तरी भारत के पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी ने मैदानी इलाकों में सर्दी बढ़ा दी है। इसका असर राजस्थान के उत्तरी हिस्सों में सबसे अधिक देखने को मिला। राज्य के एकमात्र पहाड़ी क्षेत्र माउंट आबू में इस सीजन में पहली बार न्यूनतम पार माइनस में दर्ज किया गया। माउंट आबू में पारा माइनस 0.4 दर्ज किया गया।

इसके अलावा, गंगानगर, बीकानेर, हनुमानगढ़, चूरू सहित शेखावाटी के कई इलाकों में सुबह से कोहरा छाया हुआ है। माउंट आबू में सुबह पेड़-पत्तियों में हल्की बर्फ की परत जम गई। तेज सर्दी और शीतलहर से बचने के लिए लोगों को अलाव का सहारा लेना पड़ा। वहीं उत्तरी राजस्थान की बात करें तो बीकानेर संभाग के कई इलाकों में पारे में गिरावट दर्ज की गई है।

जयपुर के पारे में 4 डिग्री की गिरावट

उधर, राजधानी जयपुर में कल के मुकाबले आज न्यूनतम तापमान 4 डिग्री की गिरावट के बाद 10 डिग्री पर पहुंच गया। सुबह हल्की सर्द हवाएं चलने से लोग ठिठुरने लगे। हालांकि, सूरज चढऩे के साथ ही गुनगुनी धूप निकली तो लोगों को सर्दी से राहत मिली। मौसम विभाग ने आगामी 19 दिसंबर तक प्रदेश में मौसम साफ रहने और तापमान में और गिरावट होने से सर्दी का असर बढऩे की संभावना जताई है।

गंगानगर में दिन-रात के पारे में 4 डिग्री का अंतर

उत्तरी राजस्थान में सर्दी की बात करें तो दिन और रात के तापमान में कोई खास अंतर देखने को नहीं मिल रहा। गंगानगर में कल दिन का तापमान अधिकतम 12.9 डिग्री रहा, जबकि बीती रात तापमान 8.9 डिग्री दर्ज हुआ। यानी दिन-रात के तापमान में महज 4 डिग्री का अंतर रहा। दिन के तापमान की बात करें तो बाड़मेर को छोड़कर शेष सभी शहरों में अधिकतम तापमान 24 डिग्री या उससे नीचे दर्ज किया गया।