समझाइश पर भी नहीं माने सफाईकर्मी, हड़ताल दूसरे दिन भी जारी

5

शहर में जगह-जगह लगे कचरे के ढेर

झालवाड़। नगरपरिषद में सफाई कर्मियों की हड़ताल गुरुवार को दूसरे दिन भी जारी रही। सफाईकर्मी समझाइश के बाद भी नहीं माने। सफाईकर्मी वेतन नहीं मिलने से नाराज हैं। सुबह से ही सफाई कर्मियों ने सफाई कार्य नहीं किया और नगरपरिषद के सामने सड़क पर धरने पर बैठ गए। सुबह से ही शहर में कचरे के ढेर लगने लगे।

सड़कों पर सफाई नहीं होने से सड़कों पर कचरा बदबू मारने लगा। दोपहर में उपसभापति प्रदीप सिंह राजावत, पार्षद इनाम जफर सहित अन्य समझाइश करने पहुंचे, लेकिन सफाईकर्मी वेतन दिलाने की मांग पर अड़े रहे।

सफाईकर्मियों ने 15 दिन पहले भी वेतन की मांग को लेकर हड़ताल की थी। उस समय सभापति संजय शुक्ला की अध्यक्षता में हुई बैठक में समझौता हुआ था। इसमें सफाई कर्मियों को बकाया वेतन में से 2 माह का वेतन भुगतान करने की बात कही गई थी।

दीपावली से पहले एक माह का वेतन भुगतान करने की बात कही गई थी, लेकिन समझौते के बाद अभी तक सफाई कर्मियों को वेतन नहीं मिला। इसी से नाराज सफाईकर्मी फिर से हड़ताल पर चले गए। सफाई कर्मियों को 6 माह से वेतन नहीं मिल पाया है। जबकि अधिकारियों के वाहनों पर भी यहां खर्चा हो रहा है।

आयुक्त से लेकर एईएन और अतिक्रमण दस्ते के लिए यहां वाहन किराए से लगा रखा है। इसी तरह पेंशनरों को भी फिर से नियुक्ति दे दी गई है। नगरपरिषद में अभी तक प्रशासनिक, सफाई, निर्माण सहित अन्य समितियों का गठन नहीं किया गया है। यहां बीजेपी का बोर्ड है। लगातार समितियों के गठन की मांग भी उठी,लेकिन सभापति ने अभी तक समितियों का गठन नहीं किया।

यह भी पढ़ें-रामगंजमंडी भाजपा कार्यकर्ताओं ने मनाई महर्षि वाल्मीकि जयंती