आर्य वडेरा के जन्मदिन पर जीवदया, अनुकंपा और गौरक्षा के संकल्प के साथ किया पौधारोपण

27

बाड़मेर। समाजसेवी जैन श्रीसंघ बाड़मेर अध्यक्ष प्रकाशचंद वडेरा परिवार के पोते आर्य वडेरा का जन्मदिन जीवदया, गौरक्षा, अनुकम्पादान के माध्यम से मनाया गया। समाजसेवा के लिए तत्पर श्रीमती सोनू वरूण वडेरा अपने जीवन के खास मौके पर हमेशा समाज के लिए मिसाल पेश करते रहीं हैं। आज जब वैश्विक कोरोना महामारी का प्रकोप चहुंओर फैला हुआ है, इस संकट की घड़ी में अपने पुत्र आर्य का इस तरह जन्मदिन मनाना समाज के लिए अनुकरीय कदम माना जा रहा है। सभी ने आर्य वडेरा को जन्मदिन की शुभकामनांए एवं आशीर्वाद दिया है। आर्य वडेरा के जन्मदिवस के उपलक्ष में नंदी गौशाला में गायों को गुड़ खिलाया गया व राउप्रा विद्यालय सांसियों का तला में वृक्षारोपण व जरूरतमंदों को दरियां भेंट की गई।

इस अवसर पर पर्यावरण प्रेमी मुकेश बोहरा ‘अमन’ ने कहा कि आज तेजी से वातावरण खराब होता जा रहा है, जिसका कारण पेड़ पौधों की अंधाधुंध कटाई है। हम सभी को मिलजुलकर पौधारोपण अवश्य करना चाहिए। पेड-पौधे हमें जिंदा रहने के लिये आक्सीजन प्रदान करते है। जो हमारे जीवन के लिए अति आवश्यक है। पेड़-पौधे वातावरण को हराभरा रखने में सहायक साबित होते है। बिना पेड़ पौधों के इसान के जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। आज पेड़ पौधों के कम होने के कारण ग्लोबल वार्मिग की समस्या खड़ी हो गई है, जिस कारण बरसात कम होने के कारण नदियां सूख रही है।

ग्लेशियर गर्मी के कारण पिघल रहे है, जो वातावरण के लिए ठीक नहीं है। हमें खाली पड़ी अपनी भूमि पर अधिक से अधिक पौधे लगाकर वातावरण को बनाए रखने में अपना सहयोग करना चाहिए। बोहरा ने कहा कि वडेरा परिवार ने समय-समय पर स्कूल प्रशासन को सहयोग प्रदान किया है जिसके लिए हम वडेरा परिवार के आभारी है।

यह भी पढ़ें: महिंद्रा ने स्कॉर्पियो के S3+ वैरिएंट को लॉन्च किया, यह है कीमत

इस अवसर पर इशुदेवी वडेरा, वरूण वडेरा, सोनू वरूण वडेरा, चन्द्रप्रकाश बी. छाजेड़, उदय गुरूजी, आर्य वडेरा, श्रेयांस वडेरा, वरूण वडेरा, इशुदेवी वडेरा, सोनू वडेरा, रिषभ वडेरा, नील बोहरा उपस्थित रहे।