श्री आदिनाथ भगवान व आचार्य विद्यासागर के चित्र अनावरण, भजन संध्या की शुरुआत

19

टोंक। दिगंबर जैन नसिया अमीरगंज टोंक में “जैनम जयतु शासनम जय हो विद्यासागरम ग्रुप की ओर से आयोजित भजन संध्या में मुम्बई से आए सुप्रसिद्ध भजन गायक कलाकार विक्की डी पारेख ने अनेक आध्यात्मिक, देश भक्ति, धार्मिक भजनों के माध्यम से देर रात तक श्रोताओं को बांधे रखा। श्रद्धालुओं ने भी भक्ति नृत्य कर के भजन संध्या का भरपूर आनंद उठाया।

समाज के प्रवक्ता पवन कंटान एवं कमल सर्राफ ने बताया की जैन नसिया में रविवार रात आयोजित भजन संध्या की शुरुआत मुख्य अतिथि जिला प्रमुख सरोज नरेश बंसल, पूर्व सभापति लक्ष्मी देवी जैन, बीजेपी नेता नरेश बंसल, समाज के अध्यक्ष पदमचंद आंडरा, मंत्री धर्मेंद्र पासरोटिया ने मंच पर देवाधिदेव श्री आदिनाथ भगवान एवं आचार्य विद्यासागर महाराज का चित्र अनावरण एवं दीप प्रज्वलन करके की।

इसके बाद विक्की डी पारेख ने पूजा है तुझको पूजेंगे हरदम, मां से ही मेरा अर्पण यह मेरा जीवन, रहे हम महावीर के बनकर ना श्वेतांबर ना दिगंबर, जिनको है बेटियां वह यह कहते हैं परियों के देश में रहते हैं हम तो रहते हैं सरीखे एक से बढ़कर एक भजनों की प्रस्तुतियां दी। गू्रप के ऋषभ नमक, आशु दाखिया, किट्टू जैन अमन सर्राफ, भाविक मलारना, ऋषभ छामुनिया, लोकेश दतवास, मनसास जैन आदि ने सभी अतिथिगण एवं म्यूजिशियंस का माला, तिलक, दुपट्टा पहनाकर सम्मान किया।

जिन धर्म प्रभावना समिति के सदस्य सुरेश, नीटू छामुनिया,ओम ककोड़, राजेश शिवाड़, डॉ. चेतन जैन, अंकुर पाटनी, पंकज कल्ली वाले, मुकेश बरवास ने विक्की डी पारेख को माला ,तिलक, दुपट्टा, चिन्ह तथा जैन वूमेन ग्रुप की ओर से देव- शास्त्र- गुरु का स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर सुरेश संघी, पंकज फूलेता, मनीष शिवाड, आरसी काला समेत कई लोग मौजूद रहे। भजन संध्या में निवाई, मालपुरा, उनियारा, बनेठा, ककोड़, आदि क्षेत्रों से श्रद्धालु शामिल हुए।

यह भी पढ़े-मानसिक बीमारियों से बचाव के पोस्टर लेकर निकाली जनचेतना रैली