सत्य के प्रति आस्था का प्रतीक है विजयदशमी पर्व : मुख्यमंत्री

45
cm dushhera

मुख्यमंत्री ने जोधपुर के रावण का चबूतरा पहुंचकर देखा रावण दहन

जोधपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को जोधपुर के रावण का चबूतरा मैदान में जयश्री राम के नारों के बीच रावण दहन किया। इससे पूर्व उन्होंने पूर्व सांसद गजसिंह के साथ श्रीराम जी की सवारी की पूजा-अर्चना कर प्रदेश में खुशहाली और सुख-समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर महापौर श्रीमती कुंती देवड़ा परिहार, सुश्री वनीता सेठ सहित जोधपुर के हजारों लोग उपस्थित रहे।

cm dushhera jodhpur

गहलोत ने इससे पहले प्रदेशवासियों को विजयादशमी पर्व की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि ‘महात्मा गांधी जी ने कहा था कि सत्य ही ईश्वर है। हम भी इसी को मानते हैं और उसी रूप में दशहरा के पर्व को मनाते हैं। आज इस पर्व को मनाने के लिए देश के कोने-कोने में जो माहौल और उत्साह है, वह सत्य के प्रति आस्था का प्रतीक है। मेरा सभी प्रदेशवासियों के लिए संदेश है कि सत्य के प्रति इसी आस्था को बनाए रखें। आपसी सौहार्द, प्रेम और भाईचारे के साथ प्रदेश के विकास में अपनी अहम भूमिका निभाएं।

जल्द शुरू होंगे शहरी ओलंपिक

मुख्यमंत्री जोधपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल के सफल आयोजन के बाद अब प्रदेश में शीघ्र ही राजीव गांधी शहरी ओलंपिक की शुरूआत होने जा रही है। हमारी मंशा है कि इंदिरा गांधी जयंती से खेलों के आयोजनों की शुरूआत की जाए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण ओलंपिक में हर वर्ग ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। लगभग 30 लाख लोगों ने पंजीयन कराकर मैदान में बिना किसी भेदभाव के खेल भावना का परिचय दिया। इसी उत्साह के साथ अब शहरों में भी खेलों का आयोजन किया जाएगा।  गहलोत ने कहा कि आयोजन को लेकर शहरी निकायों में तैयारियां शुरू हो गई हैं। हमें पूरा विश्वास है कि शहरी ओलंपिक में भी वैसा ही उत्साह देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए संकल्पित होकर अहम निर्णय ले रही है। प्रदेश में खेल मैदानों का विकास करने के साथ ही खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं।

युवाओं को समर्पित होगा अगला बजट

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में पहली बार राजस्थान में किसानों के लिए अलग से कृषि बजट प्रस्तुत किया गया। अब आगामी बजट युवाओं को समर्पित होगा। श्री गहलोत ने प्रदेश के युवाओं और हर वर्ग से आह्वान किया कि वे अगले बजट के लिए अपने सुझाव भेजें, ताकि युवाओं के लिए अहम फैसले लिए जा सकें। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि आमजन से प्राप्त सुझावों को बजट में शामिल किया जाए।