पश्चिम बंगाल के गवर्नर सीवी आनंद बोस की मुश्किलें बढ़ीं

cv anand bose
cv anand bose

अब ओडिशी डांसर ने लगाया सीवी आनंद बोस पर छेड़छाड़ का आरोप

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के राजभवन में छेड़खानी के आरोपों का सामना कर रहे गवर्नर सीवी आनंद बोस की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। कोलकाता पुलिस ने ओडिशी डांसर के साथ दुर्व्यवहार करने पर एक नई एफआईआर दर्ज की है।

पुलिस ने यह शिकायत डांसर की शिकायत पर दर्ज की है। इसमें आरोप लगाया गया है कि अक्टूबर, 2023 में सीवी आनंद बोस ने दिल्ली में ओडिशी डांसर के साथ दुर्व्यवहार किया। डांसर ने अपनी शिकायत में कहा है कि यह घटना दिल्ली के एक होटल में हुई थी। कोलकाता पुलिस ने राज्य सरकार को दी एक रिपोर्ट में इस एफआईआर का उल्लेख किया है।

पहले लगे राजभवन में छेड़खानी के आरोप

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सीवी आनंद बोस के खिलाफ यह नया मामला ऐसे वक्त पर सामने आया है जब वे राजभवन में पहले से छेड़खानी के आरोपों का सामना कर रहे हैं। अब ओडिशी डांसर ने उन पर छेड़खानी को आरोप लगा दिए हैं।

ओडिशी डांसर ने कहा है कि विदेश यात्रा से जुड़ी कुछ दिक्कतों को दूर करने के सिलसिले में वह राज्यपाल सीवी आनंद बोस से मिली थीं। यह घटना उसी वक्त की है। डांसर ने अपनी शिकायत में बताया है कि राज्यपाल उसकी मदद करने के लिए सहमत हुए थे। उन्होंने सलाह दी थी कि वह विदेश मंत्रालय से भी संपर्क करें। डांसर को पिछले साल 5 और 6 जनवरी के लिए होटल बुकिंग के साथ-साथ दिल्ली से आने-जाने के लिए उड़ान टिकट भी मिले।

बंग भवन में रुके थे सीवी आनंद बोस

शिकायत के अनुसार सीवी आनंद बोस उस समय दिल्ली के बंग भवन में रह रहे थे। वह डांसर के होटल गए और वहां कथित तौर पर उनके साथ दुर्व्यवहार किया। अधिकारियों ने बताया कि शिकायतकर्ता ने यह नहीं बताया कि उसने शिकायत दर्ज कराने के लिए 10 महीने तक इंतजार क्यों किया। शुरुआती जांच रिपोर्ट का हवाला देते हुए अधिकारियों ने कहा कि राज्यपाल का बंग भवन और होटल में प्रवेश-निकास का समय और सीसीटीवी फुटेज शिकायत में उल्लिखित समय सीमा की पुष्टि करते हैं।

cv anand bose and mamta
cv anand bose and mamta

ममता बनर्जी हैं हमलावर

सीएम ममता बनर्जी ने 11 मई को एक रैली में कहा कि राज्यपाल सीवी आनंद बोस के बारे में सब कुछ अभी तक सामने नहीं आया है। उन्होंने कहा कि एक और वीडियो और एक पेन ड्राइव। ममता बनर्जी ने कहा था कि बंगाल की महिलाओं पर अत्याचार करने वाले आप कौन होते हैं? तब बनर्जी ने राज्यपाल के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा था कि उनके पास बैठना भी पाप है। बोस ने भी संकेत दिया था कि उनके खिलाफ और भी शिकायतें सामने आ सकती हैं। 3 मई को राजभवन की कर्मचारी द्वारा 24 अप्रैल और 2 मई को उसके साथ छेड़छाड़ की शिकायत करने के एक दिन बाद राज्यपाल ने साजिश की आंशका व्यक्त की थी।

यह भी पढ़ें:शादी में मिले उपहारों की लिस्ट बनाएं, दहेज के केसों में मदद मिलेगी: इलाहाबाद हाईकोर्ट