आगामी मेलों में श्रृद्धालुओं की सुरक्षा के लिए तमाम इंतजामात किये जाएं – मुख्य सचिव

24
chief Secretary
chief Secretary

जयपुर । मुख्य सचिव श्रीमती उषा शर्मा ने कहा कि प्रदेश में आयोजित होने वाले आगामी मेलों में श्रृद्धालुओं की सुरक्षा के लिए तमाम इंतजामात किए जाएं तथा सक्रिय तरीके से मॉनीटरिंग सुनिश्चित की जाये जिससे किसी भी तरह की संभावित दुर्घटना को रोका जा सकें। श्रीमती शर्मा मंगलवार को यहाँ शासन सचिवालय में श्रृद्धालुओं की सुरक्षा हेतु योजना की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रही थी।

उन्होंने कहा कि मेलों के दौरान महत्पपूर्ण मार्गों की सघन चैंकिग की जाए तथा शराब पीकर वाहन चलाने वाले चालकों के विरूद्व पुलिस द्वारा कार्यवाही कर कम से कम तीन माह के लिए ऐसे लोगों का अनिवार्य रूप से लाइसेंस निलम्बित किया जाए।

श्रीमती शर्मा ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मेलों के महत्वपूर्ण मार्गां पर प्रति 25 किलोमीटर पर पुलिस मोबाइल की व्यवस्था की जाए साथ ही मार्गों में आने वाले समस्त पुलिस थानों द्वारा भी नियमित पेट्रोलिंग की जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि मेलों के दौरान पुलिस, परिवहन तथा स्वंय सेवी संस्थाओं के माध्यम से समस्त श्रृद्वालुओं को रिफ्लेक्टिव टेप लगाया जाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि  महत्वपूर्ण मार्गों के निकट पड़ने वाले निजी, राजकीय अस्पताल एवं ट्रोमा सेन्टर को चिन्हित कर 24×7 संचालित किया जाए।

उन्होंने अधिकारियों को वाहनों की गति नियन्त्रित रखने के लिए विशेष प्रर्वतन व्यवस्था, महत्वपूर्ण सड़कों का रख- रखाव, पैदल यात्रियों के लिए सुगम मार्ग की सुनिश्चितता, अस्थाई ट्रैफिक पोस्ट स्थापित करने संबंधी निर्देश भी प्रदान किए।बैठक में पुलिस महानिदेशक  मोहन लाल लाठर ने कहा कि मेलों के स्थलों तथा रूट पर यात्रियों को लगातार चेतावनी तथा समझाइश की जाए जिससे किसी भी तरह की दुर्घटना ना हो। उन्होंने कहा कि इस दौरान किसी भी तरह के आपराधिक गतिविधि को रोकने के लिए पुलिस द्वारा रात्रि गस्त भी की जाए। बैठक में परिवहन आयुक्त श्री कन्हैयालाल स्वामी ने श्रद्वालुओं की सुरक्षा हेतु योजना के संबंध प्रस्तुतिकरण भी दिया।