डूंगरपुर और खेरवाड़ा तो शांत, लेकिन ऋषभदेव में उपद्रवियों के पथराव से 6 पुलिसकर्मियों समेत 8 लोग घायल

8

शिक्षक भर्ती में 1167 खाली पद एसटी से भरने की मांग को लेकर भड़की आग उदयपुर के ऋषभदेव पहुंची

जयपुर। शिक्षक भर्ती में 1167 खाली पद एसटी वर्ग से भरने की मांग को लेकर चल रहा उग्र प्रदर्शन लगातार चौथे दिन भी जारी रहा। हालांकि, डूंगरपुर और खेरवाड़ा तो शांत हो गया, लेकिन उदयपुर के ऋषभदेव में उपद्रवियों के पथराव से 6 पुलिसकर्मियों समेत 8 लोग घायल हो गए। पहाडिय़ों पर चढ़े कई प्रदर्शनकारी बड़े पत्थरों से पुलिसकर्मियों को निशाना बना रहे हैं, जिसमें अब तक 40 से ज्यादा घायल हो चुके हैं।

वहीं, उपद्रव को देखते हुए उदयपुर की सराडा और गोगुंदा पंचायत समितियों की 55 ग्राम पंचायतों के चुनाव स्थगित कर दिए गए हैं। उधर, शाम को उदयपुर-अहमदाबाद हाइवे भी चौथे दिन वाहनों के लिए खोल दिया गया।

वहीं, सुलह की कोशिशें भी शुरू हो गई हैं। रविवार को खेरवाड़ा पंचायत समिति में प्रशासन व जनप्रतिनिधि की बैठक में निर्णय हुआ कि शिक्षक भर्ती 2018 की रिक्त रही सीटों को लेकर अब सरकार सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर की जाएगी।

गोली लगने से घायल हुए किशोर ने दम तोड़ा, अब तक 2 जान गंवा चुके

उदयपुर में ऋषभदेव और झाड़ोल उपद्रव के नए हॉटस्पॉट बन गए। थाना क्षेत्र में नेशनल हाईवे 58-ई पर पुलिस और प्रशासन के दल पर पथराव और हमला हो गया। इसमें छह पुलिसकर्मियों सहित 8 लोग घायल हो गए। इस बीच शनिवार को हुई पुलिस फायरिंग में घायल एक और किशोर ने भी दम तोड़ दिया है। सांसद अर्जुनलाल मीणा ने दोनों मृतकों के परिवारों को मुआवजा देने की बात कही।

सुलह; प्रशासन-जनप्रतिनिधियों में सहमति, कोर्ट का फैसला मानेंगे

खेरवाड़ा पंचायत समिति में रविवार को प्रशासन और जनप्रतिनिधि के बीच बैठक हुई। इस दौरान जनप्रतिनिधियों ने कहा कि हाइवे पर जो हो रहा है, वह ठीक नहीं। निर्णय हुआ कि शिक्षक भर्ती 2018 की रिक्त रही सीटों को लेकर अब सरकार सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर की जाएगी। इसके लिए कमेटी बनाई जाएगी। इसके बाद कोर्ट का जो भी फैसला होगा, वह सभी को मान्य होगा।