500 करोड़ की बजट घोषणा से टूरिज्म इंडस्ट्री को प्रोत्साहन मिलेगा- टूरिज्म एसोसिएशंस

7
  • टूरिज्म संगठनों ने इंडस्ट्री के हित में लिए गए फैसलों के लिए आभार जताया
  • बिजली, पानी और यूडीएच टैक्स पर औद्योगिक सुविधाएं देने की अपील की

टूरिज्म इंडस्ट्री के संबंध में लिए गए हितकारी फैसलों के लिए टूरिज्म फ्रेटरनिटी ने स्पाइस कोर्ट में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में राज्य सरकार का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर, उन्होंने बिजली, पानी और यूडीएच टैक्स पर औद्योगिक सुविधाएं प्राप्त करने के लिए भी महत्वपूर्ण अपील की।

प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन होटल एंड रेस्ट्रां एसोसिएशन ऑफ राजस्थान (HRAR), इंडियन हेरिटेज होटल्स एसोसिएशन (IHHA), फेडरेशन ऑफ हॉस्पिटेलिटी एंड टूरिज्म ऑफ राजस्थान, (FHTR) और राजस्थान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स (RATO) द्वारा किया गया था।

प्रेसिडेंट, आईएचएचए (IHHA) एंड एफएचटीआर (FHTR), रणधीर विक्रम सिंह; प्रेसिडेंट, एचआरएआर (HRAR) एंड आरएटीओ (RATO), कुलदीप सिंह चंदेला; मेंबर एग्जीक्यूटिव कमेटी, आईएचएचए, राजेंद्र सिंह पचार; सेक्रेटरी, एचआरएआर (HRAR), आशीष आनंद; सेक्रेटरी, आरएटीओ (RATO), संजय कौशिक; सेक्रेटरी, एसोसिएशन ऑफ डॉमेस्टिक टूरिज्म ऑफ इंडिया (एडीटीओई) राजस्थान चैप्टर, विरेन शेखावत; जनरल सेक्रेटरी, एफएचटीआर (FHTR), मोहन सिंह एवं ज्वाइंट सेक्रेटरी- एचआरएआर (HRAR), रणविजय सिंह; वाइस प्रेसिडेंट, एचआरएआर (HRAR), सतिंदर पाल सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया।

इंडस्ट्री के हित में लिए गए कुछ फैसले हैं- कोविड गाइडलाइंस के तहत हाल ही में घोषित किए गए कर्फ्यू के नियमों से रेस्ट्रां और कैफे को बाहर रखना और टूरिज्म के प्रमोशन, मार्केटिंग, डवलपमेंट और रिस्टोरेशन के लिए 500 करोड़ की घोषणा इंडस्ट्री के लिए लाभकारी होगी। यह बजट घोषणा टूरिज्म इंडस्ट्री के इतिहास में एक मील का पत्थर निर्णय है। भारत की आजादी के 70 वर्षों में, यह पहली बार है जब राज्य के लिए इतने बड़े बजट की घोषणा की गई है। इसी तरह, बार लाइसेंस शुल्क में भी छूट दी गई है और नए बार लाइसेंस हासिल करने में आसानी इंडस्ट्री के लिए एक बड़ी राहत है। आरएटीओ (RATO) ने लग्जरी कोचों से एसआरटी माफ करने के लिए भी राज्य सरकार को धन्यवाद दिया।

इसी तरह, संगठनों ने सरकार से वेंट शुल्क और पैनेल्टीज नहीं लेने के साथ ही लाइसेंस शुल्क इन्सटालमेंट में लेने अनुरोध किया। इंडस्ट्री को आवासीय भूखंडों पर सभी होटलों को नियमित करने के लिए यूडीएच से एक बड़ी घोषणा की उम्मीद है, जिनके पास होटल एवं गेस्टहाउस चलाने के लिए आवश्यक सभी लाइसेंस हैं और जो नियमित रूप से जीएसटी का भुगतान भी करते हैं।

इसके अलावा, एफएचटीआर देशभर में रोडशो और राजस्थान डोमेस्टिक टूरिज्म मार्ट (RDTM) का आयोजन करने की तैयारी कर रहा है।

यह भी पढ़ें-अप्रेल से परिवहन विभाग की 17 सेवायें होगी फेसलैस : परिवहन आयुक्त