दूसरे टेस्ट मैच के प्लेयर ऑफ द मैच रहे कप्तान रहाणे, मिला मुलाग मेडल

13

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को मेलबर्न में खेले गए बॉक्सिंग-डे टेस्ट में 8 विकेट से हरा दिया। इसमें टीम इंडिया के कप्तान अजिंक्य रहाणे को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। इसी के साथ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने रहाणे को मुलाग मेडल से सम्मानित किया। CA ने टेस्ट से पहले ही प्लेयर ऑफ द मैच को मुलाग मेडल देने की घोषणा कर दी थी।

रहाणे ने टेस्ट की पहली पारी में 223 बॉल पर 112 रन की पारी खेली थी। इस दौरान उन्होंने 12 चौके जड़े थे। इसके बाद दूसरी पारी में रहाणे ने 40 बॉल पर नाबाद 27 रन बनाए और टीम को जीत दिलाई। मैच में ऑस्ट्रेलिया ने 70 रन का टारगेट दिया था।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट की सीरीज 1-1 से बराबर हो गई। सीरीज का पहला मैच एडिलेड में डे-नाइट खेला गया था। इसमें ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से शिकस्त देकर 1-0 की बढ़त बनाई थी। इस मैच की दूसरी पारी में भारतीय टीम ने टेस्ट इतिहास का अपना सबसे कम 36 रन का स्कोर बनाया था।

मेडल का नाम 152 साल पहले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रहे जॉनी मुलाग के नाम पर रखा गया। मुलाग 1868 में पहली बार विदेश दौरे पर जाने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान थे। टीम का यह इंग्लैंड दौरा था। मुलाग ने 45 टेस्ट की 71 पारी में 1698 रन बनाए। उन्होंने 1877 ओवर बॉलिंग भी की। इस दौरान 831 मेडन ओवर डाले थे। उन्होंने 257 विकेट लिए। मुलाग ने 1866 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर एक बॉक्सिंग-डे टेस्ट भी खेला था।

हर साल 26 से 30 दिसंबर तक होने वाले मैच को बॉक्सिंग डे टेस्ट कहा जाता है। बॉक्सिंग-डे वास्तव में ‘क्रिसमस बॉक्स’ (क्रिसमस गिफ्ट) से बना शब्द है। क्रिसमस के अगले दिन ज्यादातर देशों में छुट्टी होती है। इस दिन क्रिसमस बॉक्स गिफ्ट करने का भी रिवाज है।