गो-मैकेनिक ने अपने 70 प्रतिशत कर्मियों को बाहर निकालेगी

29
फिलिप्स
फिलिप्स

को-फाउंडर बोले- छंटनी का ये है कारण

कार रिपेयरिंग की सेवा देने वाली कंपनी गो मैकेनिक ने बड़ी छंटनी का एलान किया है। कंपनी ने कहा है कि वह अपने 70त्न कर्मियों को बाहर करेगी। माना जा रहा है कि इस छंटनी का कारंण फंड्स हासिल करने में असफल रहना और अकाउंटिंग से जुड़ी गंभीर दिक्कतें हैं।

विकास का रास्ता चुना

गो-मैकेनिक
गो-मैकेनिक

बुधवार को अपने लिंक्डइन पोस्ट में गो मैकेनिक के सह-संस्थापक अमित भसीन ने कहा है कि सिक्योइया इंडिया से समर्थिक कंपनी फैसला लेने में गंभीर गलतियां की है। हमने हर कीमत पर विकास का रास्ता चुना। उन्होंने कहा कि कंपनी ने अपने पूंजीगत समाधान के लिए बिजनेस को पुनर्गठित करने का फैसला किया है।

बता दें कि गो-मैकेनिक का मुख्यालय गुडग़ांव में है। स्टार्टअप की स्थापना वर्ष 2016 में कार रिपेयरिंग की सुविधाओं को सरल बनाने के उद्देश्य से की गई थी। कंपनी पिछले कुछ दिनों में कई निवेशकों के साथ चर्चा के बावजूद फंड्स हासिल करने में असफल रही है। पिछले वर्ष खबरें आईं थीं कि स्टार्टअप एक बिलियन डॉलर के वैल्युएशन पर फंड्स हासिल करने के लिए टाइगर ग्लोबल के नेतृत्व में निवेशकों से बातचीत कर रही है।

भसीन ने कहा कि हम इस कठिन परिस्थिति की पूरी जिम्मेदारी लेते हैं। हम बिजनेस को पुनर्गठित करना चाहते हैं इसलिए गंभीर फैसले लेने को विवश हैं। छंटनी का यह फैसला दर्दभरा है। लगभग 70 प्रतिशत लोगों को वापस जाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि एक थर्ड पार्टी फर्म बिजनेस का ऑडिट कर रही है। उन्होंने कहा, गो-मैकेनिक अपने शुभचिंतकों के समर्थन से कठिन परिस्थिति से निकलने का सबसे सटीक प्लान बनाने पर काम कर रही है।

यह भी पढ़ें : विटामिन-सी का खजाना है सर्दियों का ये फल