ग्रेटर निगम के साथ अन्य निकाय भी करें गौमाता के सम्मान में पहल: उपमहापौर

6

उपमहापौर ने अन्य निकायों को पत्र लिखकर गाय के लिये आवारा शब्द नहीं करने का किया आग्रह

ग्रेटर निगम के साथ अन्य निकाय भी करें गौमाता के सम्मान में पहल
उपमहापौर ने अन्य निकायों को पत्र लिखकर गाय के लिये आवारा शब्द नहीं करने का किया आग्रह

जयपुर। उपमहापौर पुनीत कर्णावट की पहल पर नगर निगम ग्रेटर जयपुर द्वारा गाय के लिये आवारा शब्द के बजाय बेसहारा या आश्रयहीन शब्द इस्तेमाल करने के आदेष जारी किये जा चुके है। इसी कड़ी में उपमहापौर ने प्रदेष के अन्य निकायों के प्रमुखों एवं आयुक्तों को पत्र लिखकर यह आग्रह किया है कि उनके क्षेत्र में भी गाय के लिये आवारा शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जाये।

उन्होंने सभी से आग्रह किया है कि भारतीय संस्कृति में गाय का सामाजिक, आर्थिक और धार्मिक महत्व है। हम गाय को माता कहकर सम्बोधित करते है।

वही दूसरी और सड़क, गली आदि में घूमने वाली गायों के लिये आवारा शब्द इस्तेमाल किया जाता है जो गौमाता के सम्मान को ठेस पहुंचाता है। उन्होंने सभी से अपील की है कि गौमाता के सम्मान के लिये गाय के लिये बेसहारा या आश्रयहीन शब्द इस्तेमाल करवाया जाये।

उपमहापौर ने माननीय मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर सभी निकायों में इस सम्बन्ध में उचित दिषा-निर्देष जारी करने का आग्रह किया है।