प्रशासन गांवों के संग शिविर में एसडीएम ने सरपंच के बेटे को मंच से हटाने पर हुआ विवाद, महिला सरपंच ने किया शिविर का बहिष्कार

14

झालावाड़ जिले की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत सुनेल में प्रशासन गांव के संग शिविर भवानी मंडी रोड पर स्थित कृषि उपज मंडी परिसर में संपन्न हुआ । जिसमें मंच पर उपखंड अधिकारी संतोष कुमार मीणा ,तहसीलदार रामनिवास मीणा ,नायब तहसीलदार राहुल कलोदिया, सरपंच सीमा कुमारी जयपुरी ,उपसरपंच जितेंद्र सिंह मंडलोई सरपंच पुत्र बलराज जयपुरी, पंचायत समिति सदस्य ललित बारेशा सहित कई वार्ड पंच भी मंच पर उपस्थित थे।

जिस पर ग्रामीणों के भीड़ लगातार मंच के पास इकट्ठे हो रही थी जिस पर उपखंड अधिकारी संतोष कुमार मीणा ने मंच पर बैठे सरपंच प्रतिनिधि एवं वार्ड पंच को मंच से हटने के लिए कहा गया जिस पर नाराज होकर सरपंच प्रतिनिधि एवं सरपंच सीमा कुमारी जयपुरी मंच से उठ कर चले गए। इस पर सरपंच सीमा कुमारी जयपुरी ने कहा कि उपखंड अधिकारी के द्वारा पहले तो वार्ड पंचों से मंच से चले जाने के लिए कहा साथ ही सरपंच के प्रति टिप्पणी करते हुए कहा कि सरपंच साहिबा आप भी अपने घर जाइए जिसको लेकर शिविर में सरपंच एवं वार्ड पंचों ने शिविर का बहिष्कार किया।

इसको लेकर उपखंड अधिकारी संतोष कुमार मीणा ने कहा कि सुनेल में सरपंच महिला है जिसका बेटा मंच पर बैठकर अव्यवस्था फैला रहा था मंच पर काफी भीड़ लगी हुई थी जिस पर सरपंच के बेटे को मंच से व्यवस्था बनाने के लिए कहा गया राज्य सरकार के निर्देशानुसार सरपंच के बेटे को मंच पर बैठने का कोई अधिकार नहीं इसलिए सरपंच के बेटे को मंच से हटाने के लिए कहा गया जिस पर सरपंच सीमा कुमारी जयपुरी भी नाराज होकर मंच से चली गई इसके साथ ही ग्राम पंचायत के द्वारा कब्जा धारियों को कब्जा देने के लिए ग्राम पंचायत मांग कर रही थी जिस पर मैंने ग्राम पंचायत को कब्जा धारी से कब्जा हटाने के लिए कहा गया जिस पर दी सरपंच के द्वारा नाराजगी जताई गई।

यह भी पढ़ें-प्रकरणों का समयावधि में करें निस्तारण – जिला कलक्टर