महंगाई की मार : घरेलु रसोई गैस की कीमतों में 15 रूपए का इजाफा, 6 महीने में 8वीं बार कीमतों में इजाफा

7

देश में लगातार बढ़ते पेट्रोल-डीजल की कीमतों और अन्य खाद्य पदाथों की कीमतों के बीच जनता को एक और महंगाई की मार पड़ी है। पेट्रोलियम कंपनियों ने आज घरेलु रसोई गैस की कीमतों में 15 रुपए का इजाफा किया है। इससे पहले एक सितम्बर को कंपनियों ने रसोई गैस की कीमतों में 25 रुपए की बढ़ोतरी की थी।

साल 2021 में रसोई गैस की कीमतों में यह 8वीं बार गैस सिलेण्डर के दाम बढ़े है। इस साल के शुरू से अंत तक अब तक कुल 205.50 रुपए बढ़ गए। साल की जब शुरूआत हुई थी, तब रसोई गैस की कीमत 698 रुपए थी, जिसमें अब 29 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी हो गई।

आज से घरेलु रसोई गैस की सिलेण्डर लोगों को 888.50 रुपए की जगह 903.50 रुपए प्रति सिलेण्डर मिलेगा। इसी तरह कंपनियों ने कॉमर्शियल उपयोग के सिलेंडर की कीमतों में 3 रुपए कम किए है। इस कमी के बाद आज से कॉमर्शियल उपयोग का 19 किलोग्राम का गैस सिलेण्डर लोगों को 1748.50 रुपए में मिलेगा।

पिछले सप्ताह शुक्रवार यानी एक अक्टूबर को कॉमर्शियल गैस की कीमतों में 36 रुपए प्रति सिलेण्डर की बढ़ोतरी की थी। कोरोना के इस दौर में जहां एक तरफ लोगों के रोजगार ठप पड़े हैं, नौकरियों पर संकट है, ऐसी स्थितियों में पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस, बिजली के बिल, खाद्य पदार्थ (कुकिंग ऑयल, आटा, दाल, दूध) इत्यादि वस्तुओं की कीमतें लगातार बढ़ रही है। निम्न और मध्यम तबके के लोगों के लिए परेशानी खड़ी हो गई है।

यह भी पढ़े-एम.बी.एम. विश्वविद्यालय, जोधपुर के नव नियुक्त कुलपति ने राज्यपाल से की शिष्टाचार भेंट