कुल्लू-मनाली से भी ठंडा राजस्थान का माउंट आबू

18

प्रदेश में सर्दी का जोर पकड़ती जा रही है। माउंट आबू में सोमवार को पारा शून्य पर पहुंच गया, जो पहाड़ी इलाके में सर्दी के लिए मशहूर कुल्लू-मनाली से भी ज्यादा ठंडा रहा। तेज सर्दी के कारण सुबह माउंट आबू के मैदानी क्षेत्रों में सुबह हल्की बर्फ की परत भी जम गई।

मौसम विभाग से मिली रिपोर्ट को देखे तो लगातार दो दिन से माउंट आबू में तापमान 1 डिग्री पर था, जो आज एक डिग्री गिरकर शून्य पर पहुंच गया। तापमान शून्य पर पहुंचने से वहां मैदानों, खेतों में हल्की बर्फ की परत जमी दिखी। आबू में सर्दी की बात करें तो ये आज हिमाचल प्रदेश के कुल्लू-मनाली से भी ठंडा रहा, जहां आज का न्यूनतम तापमान 7 और 6.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

मौसम विभाग ने आगामी 24-25 नवंबर को प्रदेश के मौसम में एक बार फिर से बदलाव की संभावना जताई है। जयपुर मौसम विभाग के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि 24-25 नवंबर को एक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना है, जिसका प्रभाव पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर, नागौर, बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़ और चूरू जिलों देखने को मिल सकता है। इन जिलों में 25 नवंबर को बादल छाने के साथ ही कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।

प्रदेश के अन्य शहरों की बात करें तो कल के मुकाबले आज तापमान में मामूली बढ़ोतरी हुई। जयपुर में रविवार का तापमान 9.9 डिग्री से बढ़कर 10.3 डिग्री पर पहुंच गया। वहीं प्रदेश के 11 शहर ऐसे है, जहां का तापमान 10 डिग्री से नीचे रहा। इसमें अजमेर, भीलवाड़ा, पिलानी, सीकर, कोटा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, उदयपुर, पाली, चूरू और श्रीगंगानगर शामिल है। मौसम विभाग से मिली रिपोर्ट के मुताबिक इस साल नवंबर में पड़ रही सर्दी सामान्य के मुकाबले इस बार ज्यादा है।